Bakri Palan Loan Yojana Se Goat Farming Kaise Kare

बकरी पालन एक ऐसा व्‍यवसाय है, जो भारत के ग्रामीण क्षेत्रों से लेकर शहरी इलाकों तक किया जाता है। राज्‍य व केंद्र सरकारें भी देश में बकरी पालन को बढ़ावा देने के लिये Bakri Palan Loan Yojana चला रही हैं।

Bakri Palan Loan Yojana Se Goat Farming Kaise Kare
बकरी पालन लोन योजना

Bakri Palan एक बहुत ही लाभकारी व्‍यवसाय है। बकरी पालन से पौष्टिक व उपयोगी दूध की प्राप्ति होती है तथा मांस का भी उत्‍पादन होता है।

भारत में बकरी पालन निर्धन तबके के द्धारा अवैज्ञानिक तरीके से किया जाता रहा है। यदि इस काम को वैज्ञानिक तरीके से प्रशिक्षण लेकर किया जाये तो यह आय का अच्‍छा स्रोत बन सकता है।

Bakri Palan Loan Yojana Rajasthan

रेगि‍स्‍तानी प्रदेश राजस्‍थान में बड़े पैमाने पर बकरी पालन किया जाता है। इसलिये राजस्‍थान में Central Government के द्धारा प्रायोजित एक योजना चलाई जा रही है। इस योजना के माध्‍यम से बकरी पालकों को Loan उपलब्‍ध कराया जाता है।

राजस्‍थान में Bakri Palan Loan Yojana राजस्‍थान राज्‍य सहकारी भूमि विकास बैंक लिमिटेड के माध्‍यम से चलाई जा रही है।

राजस्‍थान राज्‍य सहकारी भूमि विकास बैंक राज्‍य के बकरी पालकों को ब्‍याज मुक्‍त ऋण प्रदान करता है। जिससे बकरी पालकों को अपना Bakri Palan व्‍यवसाय सुचारू रूप से करने में बहुत आसानी होती है।

Bakri Palan Loan Yojana के उद्देश्य

  • देश में बकरी पालन के कार्य को वैज्ञानिक ढंग से करने के लिये प्रोत्‍साहित करना।
  • देश में मांस की बढ़ती मांग को पूरा करना।
  • शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के निर्धन वर्ग के लोगों की आय को बढ़ाना।
  • देश में बकरी के दूध की मांग को पूरा करना।
  • बकरियों से प्राप्‍त होने वाली खाद को किसानों तक पहुंचाना।

Bakri Palan Loan Yojana के लिये पात्रता

  • ग्रामीण क्षेत्रों के किसान जिन्‍हें Bakri Palan का अनुभव है।
  • महिलाओं को Bakri Palan Loan Yojana के तहत प्राथमिकता मिलती है।
  • अनुसूचित जाति / जनजाति के लोगों को भी प्राथमिकता के आधार पर ब्‍याज रहित ऋण दिया जाता है।
  • पारंपरिक गड़रियों को भी लोन में प्राथमिकता मिलती है।
Bakri Palan Loan Yojana का Loan कैसे पास होता है

Bakri Palan Loan Yojana में आवेदन करने से पहले बकरी पालक को अपने जनपद के पशुपालन विभाग से संपर्क करना होता है। जहां उसे योजना से संबंधित फार्म मिलता है।

फार्म को उचित प्रकार से भर कर विभाग में जमा किया जाता है। जहां से वह संबंधित बैंक के पास भेजा जाता है। चूंकि Bakri Palan Loan Yojana पूरी तरह ब्‍याज रहित है। इसलिये Bank लोन स्‍वीकृत करके, योजना के अंतर्गत NABARD के पास ब्‍याज मुक्‍त राशि को स्‍वीकृत करने के लिये भेजता है।

जब नाबार्ड के द्धारा आवेदक का लोन स्‍वीकृत हो जाता है, तो ऋण की राशि लाभार्थी के खाते में पहुंचा दी जाती है।

Bakri Palan Loan Yojana के लिये जरूरी दस्‍तावेज

  • आवेदक के पास आधार कार्ड होना आवश्‍यक है।
  • राजस्‍थान का मूल निवास प्रमाण पत्र।
  • किसान की स्‍वामित्‍व वाली भूमि की खसरा खतौनी।

Bakri Palan Loan Yojana के तहत मिलने वाले ऋण की अदायगी

राजस्‍थान बकरी पालन लोन योजना के तहत मिलने वाले ऋण की अदायगी समय सीमा 9 साल है। इस अवधि में अनुग्रह के 2 वर्ष भी सम्मिलित किये गए हैं।

ऋण की राशि वर्ष में 2 बार छमाही नाबार्ड में जमा करनी होती है। नाबार्ड में जो भी राशि जमा की जाती है वह ब्‍याज रहित ऋण की राशि होती है।

Bakri Palan Loan Yojana से इकाई के लिये जरूरी दिशा निर्देश

बैंक से ऋण प्राप्‍त हो जाने के बाद बकरी पालक को बकरी पालन इकाई लगाना होती है। जिसके लिये नाबार्ड के कुछ जरूरी दिशा निर्देश हैं। जिनके बारे में आपको जानकारी होना आवश्‍यक है।

जिस बकरी पालक का ऋण स्‍वीकृत होगा उसे अपनी इकाई का बीमा कराना होगा और समय समय पर बीमा रिनूवल भी होगा।

जिस स्‍थान पर Bakri Palan किया जाएगा वहां एक बोर्ड पर “NABARD” लिखा हुआ बोर्ड लगाना अनिवार्य होगा।

लोन मिलने और Bakri Palan इकाई लग जाने के बाद उसका समय समय पर निरीक्षण किया जाएगा। ताकि Bakri Palan इकाई की प्रगति पता चलती रहे।

Bakri Palan Loan Yojana की राशि

Bakri Palan Loan की राशि किसान की भूमि सब रजिस्‍ट्रार की गणना के बाद 60 प्रतिशत दी जाएगी।

Bakri Palan की 1 इकाई में 4 बकरी व 2 नर बकरे शामिल होंगें। ईकाई का मूल्‍य 1 लाख रूपये होगा। जिसमें ब्‍याज मुक्‍त ऋण की राशि योजना की लागत का 50 प्रतिशत होगा।

Bakri Palan Loan Yojana के तहत लगने वाली इकाई में किसान का अंशदान 10 प्रतिशत, ब्‍याज मुक्‍त ऋण राशि 50 प्रतिशत तथा बैंक ऋण 40 प्रतिशत होता है।

Bakri Palan Loan Yojana Maharashra

भारत के महाराष्‍ट्र राज्‍य में भी Bakri Palan Loan Yojana चलाई जा रही है। इस योजना का संचालन IDBI Bank के द्धारा किया जा रहा है।

यदि कोई व्‍यक्ति महाराष्‍ट्र में Bakri Palan इकाई लगाना चाहता है, तो उसे IDBI Bank की योजना भेड़ एवं बकरी पालन के लिये ऋण के तहत आवेदन करना होगा।

बकरी पालन के लिये IDBI 50 हजार रूपये से लेकर 50 लाख रूपये तक का Loan प्रदान करता है। बैंक के द्धारा यह लोन व्‍यक्तियों / समूहों तथा गड़रिया कोऑपरेटिव सोसाइटियों को प्रदान किया जाता है।

Bakri Palan Loan Yojana Se Goat Farming Kaise Kare

कुल मिला कर भारत में बकरी पालन के क्षेत्र में असीम संभावनाएं मौजूद हैं। यह एक बहुत ही लाभकारी व्‍यवसाय है। यही कारण है कि पढ़े लिखे शिक्षिति बेरोजगार भी Bakri Palan के क्षेत्र में अपने हाथ आजमा रहे हैं।

बकरी पालन करने के लिये निजी भूमि होना बहुत आवश्‍यक है। यदि निजी भूमि है, तो Bakri Palan Ke Liye Sarkari Anudan और Loan सहजता से मिल जाता है।

जिसके बाद आपको अपनी भूमि पर टीन शेड, बाउंड्री और पानी के लिये हैंडपंप आदि की ही व्‍यवस्‍था करनी होती है। Bakri Palan इकाई में पैदा होने वाले बच्‍चे जब बड़े हो जाते हैं, तो बाजार में अच्‍छी कीमत पर बिकते हैं। जिससे किसानों और गड़रियों को अच्‍छी आमदनी प्राप्‍त होती है।

Also Read :

Image Courtesy : Pixabay Free Images

Spread the love

6 thoughts on “Bakri Palan Loan Yojana Se Goat Farming Kaise Kare”

  1. To
    Mera name-tugan.paswan a.t-balagoji p.o-chakai.urwa p.s-chakai dist-jamui rajey-bihar pin cod-811303 since sale hu sir me goat farming krna chahta hu outam nasal se bait lon nhi Milne key karn

    Reply
    • अपने जिले के पशुपालन अधिकारी / मुख्यह पशु चिकित्सा अधिकारी से भेंट करें और अपनी समस्या बतायें।

      Reply
  2. सर मेने 13 बकरी aur 15 भेड़ से अपना फार्म इसतात किया है लेकीन लोन नही मील रहा है मेरे पास 50 बीघा जमीन भी खेती बाड़ि का भी काम कर्ता hu सिरोही नसल की बकरिया ये बढ के 92 होगई है लेकीन लेकीन पयसौ के चलते मे आगे नही चला पा रहा हु प्लीज कुच मदद करो

    Reply
  3. बकरी पालन बेरोजगारों के लिये लाभ दायक…।।।।

    Reply

Leave a comment