{फार्म} Bal Sahitya Samman संवर्द्धन Yojana में आवेदन कैसे करें

Bal Sahitya Samman 2020| बालसाहित्‍य संवर्द्धन योजना उत्‍तरप्रदेश | UP Bal Sahitya Samman | Bal Sahitya Samman Uttarpradesh | Apply for Bal Sahitya Samman 2019 |

उत्‍तरप्रदेश हिंदी संस्‍थान (uphindisansthan.in) के द्धारा Bal Sahitya Samman 2018 के लिये आवेदन पत्र आमंत्रित किये हैं।

अभी कुछ दिन पहले ही संस्‍थान के द्धारा अन्‍य श्रेणियों में पुरस्‍कार प्रदान करने हेतु विज्ञापन प्रकाशित किया था।

अब प्रदेश के बाल साहित्‍यकारों के लिये भी ‘बाल साहित्‍य सम्‍मान 2018’ की विधिवत घोषणा हो गयी है।

जिसके अंतर्गत विभिन्‍न श्रेणियों में पुरस्‍कार प्रदान किये जायेंगे। बाल साहित्‍य सम्‍मान 2018 के लिये प्रत्‍येक सम्‍मान के तहत सम्‍मानित बाल साहित्‍यकार को 51,000 रूपये की बड़ी धनराशि प्रदान की जाएगी।

Bal Sahitya Samman 2020 उत्‍तरप्रदेश की विभिन्‍न श्रेणियां

Apply for Bal Sahitya Samman Yojana Uttarpradesh in Hindi
बाल साहित्य सम्मान के लिये आवेदन आमंत्रित
  • (1) सुभद्रा कुमारी चौहान महिला बाल साहित्‍य सम्‍मान
  • (2) निरंकार देव सेवक बाल साहित्‍य इतिहास लेखन सम्‍मान
  • (3) सोहन लाल द्धिवेदी बाल कविता सम्‍मान
  • (4) अमृत लाल नागर बाल कथा सम्‍मान
  • (5) शिक्षार्थी बाल चित्रकला सम्‍मान
  • (6) डॉ. राम कुमार वर्मा बाल नाटक सम्‍मान
  • (7) आचार्य कृष्‍ण विनायक फड़के बाल साहित्‍य समीक्षा सम्‍मान
  • (8) लल्‍ली प्रसाद पांडेय बाल साहित्‍य पत्रकारिता सम्‍मान
  • (9) जगपति चतुर्वेदी बाल विज्ञान लेखन सम्‍मान
  • (10) उमाकांत मालवीय युवा बाल साहित्‍य सम्‍मान

Bal Sahitya Samman नियमावली 2015 के अंतर्गत जरूरी नियम

  • (1) यह नियमावली बाल साहित्‍य नियमावली 2014 के नाम से जाती है तथा पूरी तरह प्रभावी है। बालसाहित्‍य पुरस्‍कार इसी नियमावली के अंतर्गत प्रदान किये जाएंगे।
  • (2) इस नियमावली का मकसद बाल साहित्‍य के अच्‍छे और स्‍तरीय ग्रंथ लेखकों को प्रोत्‍साहित करना है।
  • (3) इसके अलावा दीर्घकालीन Hindi Bal Sahitya के क्षेत्र में अपनी सेवायें प्रदान करने वाले साहित्‍यकारों / रचनाकारों को सम्‍मानित करने की योजना लागू होगी।
  • (4) इसी नियमावली के तहत उत्‍तरप्रदेश हिंदी संस्‍थान बाल साहित्‍य संवर्द्धन योजना के तहत प्रतिवर्ष पुरस्‍कार प्रदान करता है।
  • (5) विभिन्‍न श्रेणियों में दिये जाने वाले पुरस्‍कारों के लिये 51,000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • (6) यह पुरस्‍कार 10 श्रेणियों में केवल 10 बाल साहित्‍यकारों को ही प्रदान किया जाएगा। प्रत्‍येक श्रेणीं में से एक साहित्‍यकार विजेता के रूप में चुना जाएगा।
  • (7) उमाकांत मालवीय युवा बा‍ल साहित्‍य सम्‍मान के लिये आवेदन करने वाले बाल साहित्‍यकार की आयु 18 से 35 वर्ष के बीच होना अनिवार्य है। शेष श्रेणियों में आयु संबंधी कोई प्रतिबंध नहीं है।

Bal Sahitya संवर्द्धन योजना 2020 के तहत चयन का आधार

  • हिंदी भाषा में उत्‍कृष्‍ट प्रकाशित बाल साहित्‍य / कृतित्‍व
  • ख्‍याति प्राप्‍त एवं जीवित बाल साहित्‍यकार

उत्‍तर प्रदेश बाल साहित्‍य सम्‍मानों की घोषणा तथा कुछ पुरस्‍कार संबंधी नियम

  • (1) पुरस्‍कार समिति पुरस्‍कारों के लिये बाल साहित्‍यकारों का चयन करेगी तथा चयनित पुरस्‍कारों की घोषणा तत्‍काल प्रभाव से अध्‍यक्ष अथवा निदेशक उत्‍तर प्रदेश हिंदी संस्‍थान के द्धारा कर दी जाएगी।
  • (2) जिन पुरस्‍कारों का निर्धा‍रण किया जाएगा, वह अंतिम एवं मान्‍य होगा।
  • (3) बाल साहित्‍यकारों को अंगवस्‍त्र, प्रमाणपत्र तथा पुरस्‍कारा धनराशि देकर सम्‍मानित किया जाएगा।
  • (4) सभी प्रकार के संस्‍तुति पत्र पर संस्‍तुति कर्ता का स्‍पष्‍ट नाम तथा दूरभाष नंबर स्‍पष्‍ट अक्षरों में अंकित होना चाहिए। तथा जीवनवृत्‍त सलंग्‍न करना अनिवार्य है।
  • (5) एक साहित्‍यकार के नाम से एक ही संस्‍तुति मान्‍य होगी।
  • (6) पुरस्‍कार समिति सर्वसम्‍मति के आधार पर प्राप्‍त संस्‍तुति में श्रेणी संशोधन कर सकती है।
  • (7) उत्‍तर प्रदेश हिंदी संस्‍थान हर साल बाल साहित्‍य भारती सम्‍मान भी देता है, इस पुरस्‍कार को पाने वाले साहित्‍यकार को इन पुरस्‍कारों के लिये सम्मिलित नहीं किया गया है।
  • (8) आजीवन तथा दीर्घकालिक सेवा के लिये इनमें से कोई 1 पुरस्‍कार जीवन में एक बार ही दिया जाना संभव है।
  • (9) बाल साहित्‍य सम्‍मान नियमावली के अनुसार दिये जाने पुरस्‍कार से संबंधित किसी भी प्रकार का वाद विवाद होने पर न्‍यायिक क्षेत्र लखनऊ होगा।

Bal Sahitya Samman संवर्द्धन Yojana में आवेदन कैसे करें

Bal Sahitya Samman बाल साहित्‍य संवर्द्धन योजना के तहत प्रदान किये जाते हैं। इसके लिये प्रख्‍यात बाल साहित्‍यकारों, संपादकों, आलोचकों तथा पत्र पत्रिकाओं के द्धारा संस्‍तुति की जाती है।

यह पुरस्‍कार किसी अन्‍य साहित्‍यकार की संस्‍तुति के आधार पर प्राप्‍त होते हैं। इसलिये आप इस योजना के तहत पुरस्‍कार पाना चाहते हैं, तो इसके लिये आवश्‍यक है, कि कोई अन्‍य बाल साहित्‍यकार, संपादक, आलोचक अथवा कोई पत्र पत्रिका आपके नाम की संस्‍तुति इस पुरस्‍कार हेतु निर्धारित फार्मेट पर उत्‍तर प्रदेश हिंदी संस्‍थान को भेजे।

यही इस योजना के तहत पुरस्‍कार पाने का तरीका है।

बाल साहित्‍य सम्‍मान में आवेदन के लिये Last Date

बाल साहित्‍य सम्‍मान के लिये भेजी जाने वाली संस्‍तुतियों के लिये अंतिम तिथि 03 अगस्‍त 2019 है।

यह संस्‍तुतियां ‘बाल साहित्‍य सम्‍मान संबंधी’ शीर्षक से निदेशक, उत्‍तर प्रदेश हिंदी संस्‍थान, लखनऊ – 226001 के पते पर भेजी जा सकती हैं।

Also Read :

Spread the love

3 thoughts on “{फार्म} Bal Sahitya Samman संवर्द्धन Yojana में आवेदन कैसे करें”

  1. मेरी बाल कविताओं की पुस्तक 2019 मेंं प्रकाशित हुई है। मैं बालसाहित्य पुरस्कार योजना के तहत आवेदन करना चाहता हूँ। कृपया इस बारे मे पूरी जानकारी दें। आभारी रहूँगा।

    Reply

Leave a comment