छत्तीसगढ़ गोमूत्र योजना क्या है – CG Gaumutra Yojana – Chhattisgarh Cow Urine Scheme

CG Gaumutra Yojana in Hindi : दोस्‍तों, छत्‍तीसगढ़ भारत का एक ऐसा इकलौता राज्‍य बन गया है, जहां आप गोमूत्र बेंच कर पैसे भी कमा सकते हैं। यह सब संभव हुआ है, छत्‍तीसगढ़ जन लोकप्रिय मुख्‍यमंत्री माननीय भूपेश बघेल के प्रयासों से।

छत्‍तीसगढ़ में ग्रामीण इलाकों में रहने वाले नागरिकों के लिये एक शानदार योजना लांच हुई है। इस योजना का नाम Chhattisgrah Gaumutra Yojana है। इस योजना के माध्‍यम से ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोग गौमूत्र बेंच सकेंगें।

इससे पहले इस राज्‍य में 2 रूपये में प्रति किलो की दर से गोबर की खरीद की जा रही है। गौमूत्र खरीद योजना को मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने हमर हरेली तिहार पर्व के अवसर पर 28 जुलाई 2022 को विधिवत रूप से लांच किया है। जिसके बाद पहले ही दिन राज्‍य में 2306 लीटर गोमूत्र की खरीद इस योजना के तहत हुई है।

आज की इस पोस्‍ट में हम आपको Chhattisgrah Cow Urine Scheme | Gomutra Yojana | Chhattisgrah Gaumutra Scheme | Gaumutra Kharid Yojana | Gaumutra Yojana CG | छत्‍तीसगढ़ गोमूत्र योजना | गौ मूत्र योजना छत्‍तीसगढ़  आदि के विषय में विस्‍तार से पूरी जानकारी देने जा रहे हैं ताकि आप भी गोमूत्र बेंच कर पैसे कमा सकें।

Chhattisgrah Gaumutra Yojana क्‍या है – CG Cow Urine Yojana 2022

Gaumutra Yojana Kya Hai - Cow Urine Price – Gaumutra Price in Chhattisgrah
गौमूत्र योजना – गो मूत्र कैसे बेंचें

Gaumutra Yojana Kya Hai : छत्‍तीसगढ़ गोमूत्र खरीद योजना विशेष रूप से ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों को ध्‍यान में रखते हुये लांच की गयी है। इस योजना के तहत छत्‍तीसगढ़ राज्‍य के सभी जिलों में गौमूत्र की खरीद की जानी है।

यह योजना हमर हरेली तिहार पर्व के अवसर पर अस्तित्‍व में आई है। इस योजना के तहत 4 रूपये प्रति लीटर की दर से Go Mutra खरीदा जायेगा। जिससे राज्‍य में गैर डेयरी उत्‍पादों के विकास और बिक्री को बढ़ावा मिलेगा।

CG गौमूत्र योजना लांच होते ही हिट हो गयी है। पहले ही दिन 2306 लीटर गोमूत्र की खरीद की गयी है। इसमें सबसे ज्‍यादा गौमूत्र राज्‍य के कबीरधाम जिले में बेंचा गया। यहां पहले दिन कुल 307 लीटर गौमूत्र की बिक्री ग्रामीणों ने की है।

Chhattisgrah Gaumutra Yojana Key Highlighs

योजना का नाम – Gaumutra Yojana

राज्‍य – छत्‍तीसगढ़

किसने लांच की – मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल

कब लांच हुई 28 जुलाई 2022

योजना का उद्देश्य – गोमूत्र की खरीद

लाभार्थी वर्ग – राज्‍य के ग्रामीण पशुपालक

आधिकारिक वेबसाइट – क्लिक करें

Cow Urine Price – Gaumutra Price in Chhattisgrah

गौमूत्र खरीद योजना के तहत छत्‍तीसगढ़ में Cow Urine Price 4 रूपये प्रति लीटर तय किया गया है।

CG Gaumutra Yojana के लाभ

गौमूत्र खरीद योजना लागू हो जाने के बाद प्रदेश में गैर डेयरी उत्‍पादों का नया बाजार विकसित होगा।

गोवंश के साथ हो रही क्रूरता में कमी आयेगी।

गौमूत्र की खरीद बिक्री होने से गौवंश से प्रेम की भावना का विकास होगा।

गो मूत्र से कीटनाशकों का निर्मांण होगा जिससे रासायनिक कीटनाशकों पर से निर्भरता में कमी आयेगी।

राज्‍य के ग्रामीण इलाकों में गोमूत्र की खरीद बिक्री से लोगों को अतिरिक्‍त आय प्राप्‍त होगी, जिससे गांव के लोगों का जीवन स्‍तर बेहतर होगा।

इस योजना का संचालन गोधन न्‍याय योजना के तहत किया जायेगा, जिससे ग्रामीण गौमूत्र को पहले से संचालित गौठानों पर जाकर बेंच सकेंगें।

Chhattisgrah Cow Urine Scheme के लिये जरूरी पात्रता

इस योजना का लाभ केवल छत्‍तीसगढ़ राज्‍य के मूल निवासी ही उठा सकते हैं।

इस योजना के लिये ग्रामीण इलाकों के लोग सीधे तौर पर पात्र माने जायेंगे।

यदि कोई शहरी क्षेत्र का नागरिक गौमूत्र बेंचना चाहता है, तो उसे ग्रामीण इलाकों में मौजूद गौठान केंद्रों पर जाकर Gaumutra बेंचना होगा।

इस योजना के लिये महिला एवं पुरूष दोनों ही पात्र हैं।

केवल गौमूत्र ही बेंचा जा सकता है, अन्‍य मवेशियों का Urine मिला कर बेंचनें वाले व्‍यक्ति पात्र नहीं होंगें।

Gaumutra Yojana के लिये जरूरी दस्‍तावेज

  • आधार कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • मतदाता पहचान पत्र
  • बैंक खाता पासबुक की फोटोकॉपी (IFSC) कोड सहित
  • रजिस्टार्ड मोबाइल नंबर आदि

सबसे पहला गोमूत्र बेंचने वाला व्‍यक्ति कौन है

यदि आप यह जानना चाहते हैं कि देश में सबसे पहले गौमूत्र किसने बेंचा? तो चलिये हम आपको बताते हैं। राज्‍य के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने सबसे पहले 5 लीटर गौमूत्र बेंच कर पहला गौमूत्र विक्रेता बनने का गौरव हासिल किया है।

उन्‍होंनें 28 जुलाई 2022 को 5 लीटर गौमूत्र गौठान पर जाकर बेंचा, जिससे उन्‍हें 20 रूपये की आय हुई। इस आय को उन्‍होंनें मुख्‍यमंत्री सहायता कोष में जमा कर दी।

छत्‍तीसगढ़ में गौमूत्र कैसे बेचें

Gaumutra Kaise Beche : यदि आप पशुपालक हैं और आप गाय का मूत्र बेंच कर पैसे कमाना चाहते हैं, तो इसके लिये आपको अपना पंजीकरण ऊपर दिये गये दस्‍तावेजों के आधार पर गांव में मौजूद गौठान पर जाकर करवाना होगा। जिसके बाद आप प्रतिदिन निकलने वाला गौमूत्र बेंच कर पैसे कमा सकते हैं।

छत्‍तीसगढ़ गौमूत्र खरीद योजना की मुख्‍य विशेषता क्‍या है?

Chhattisgrah Gaumutra Yojana से गांव में रहने वाले ग्रामीणों की आजीविका में वृद्धि होने का अनुमान व्‍यक्‍त किया जा रहा है। राज्‍य में गोबर खरीद की सफलता से उत्‍साहित होकर ही सरकार ने गौमूत्र खरीद योजना लांच करने का साहस दिखाया है। एक अनुमान के अनुसार राज्‍य में हर साल लाखों लीटर गौमूत्र की खरीद इस योजना के तहत की जानी है।

अक्‍सर पूछे जाने वाले प्रश्‍न – FAQ

क्‍या छत्‍तीसगढ़ Cow Urine Scheme लांच करने वाला देश का पहला राज्‍य है?

जी हां, Cow Urine Scheme लांच करने वाला छत्‍तीसगढ़ देश का पहला राज्‍य है।

क्‍या अन्‍य राज्‍यों के लोग Chhattisgrah Gaumutra Yojana के तहत Cow Urine बेंच सकते हैं?

जी नहीं, अन्‍य राज्‍यों के लोग अपने राज्‍य का गौमूत्र छत्‍तीसगढ़ में लाकर नहीं बेंच सकते हैं।

यदि किसी राज्‍य में गौमूत्र योजना लागू नहीं है, तो वहां के नागरिक Urine कहां बेंचे?

ऐसे राज्‍य जहां Go Mutra योजना लागू नहीं है, वहां के लोग अपना गौ मूत्र प्राइवेट सेक्‍टर की किसी कंपनी को बेंच सकते हैं।

छत्‍तीसगढ़ में गौमूत्र बेंचनें कहां जायें?

आप ग्रामीण इलाकों में मौजूद गौठानों में जाकर अपना गौमूत्र बेंच सकते हैं।

खरीदे गये गोमूत्र से क्‍या बनेगा?

जो गोमूत्र आप गौठानों पर बेंचेंगें उससे जीवामृत तथा कीटनाशक बनाये जायेंगें।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट Chhattisgrah Gaumutra Yojana Kya Hai – CG Gaumutra Yojana – Chhattisgarh Cow Urine Scheme यदि आप Gaumutra Yojana Registration Form के विषय में कोई अन्‍य प्रश्‍न पूछना चाहते हैं तो आप हमसें कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।

Spread the love

2 thoughts on “छत्तीसगढ़ गोमूत्र योजना क्या है – CG Gaumutra Yojana – Chhattisgarh Cow Urine Scheme”

  1. छत्तीसगढ़ सरकार ने गोमूत्र से संबंधित योजना बनाकर पशुपालकों के लिये लाभ सुरक्षित कर दिया।
    वहीं विभिन्न सरकारों को अचम्भित कर दिया।

    Reply
    • जी सही कहा आपने, यह छत्‍तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार का मास्‍टर स्‍ट्रोक है।

      Reply

Leave a comment