Chief Minister Fellowship Yojana UP क्या है – फेलोशिप योजना यूपी 2022 लाभ / पात्रता / आवेदन

UP CM Fellowship Yojana Apply Online 2022 | उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना रजिस्ट्रेशन | यूपी मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना लाभ एवं पात्रता | UP Mukhymantri Fellowship Program Online Application Form | CM Fellowship Yojana UP Hindi |

Chief Minister Fellowship Yojana UP Hindi : यूपी की योगी सरकार ने प्रदेश के युवाओं के साथ मिल काम करने के लिये एक नयी योजना की शुरूआत की है। इस योजना का नाम मुख्‍यमंत्री फेलोशिप योजना है।

Fellowship Yojana UP के माध्‍यम से यूपी सरकार चाहती है कि प्रदेश के ऐसे युवा जो शोध कार्य में दिलचस्‍पी रखते हैं। सरकार उनके साथ मिल कर नीति प्रबंधन / क्रियान्‍वयन व अनुश्रवण आदि के कामों में भागीदारी करवाना चाहती है।

यूपी मुख्‍यमंत्री फेलोशिप  प्रोग्राम योजना के तहत शोधार्थी युवाओं को पूरे एक साल तक फेलोशिप प्रदान की जायेगी। आपकी जानकारी के लिये बता दें कि इस योजना के लिये राज्‍य सरकार के नियोजन विभाग के द्धारा आवेदन पत्र मांगें गये हैं। जिसकी अंतिम तिथि 24 अगस्‍त 2022 तक है।

यूपी सरकार ने इस योजना की जानकारी युवाओं तक पहुंचाने के लिये प्रचार प्रसार का सहारा लिया है। जिसके लिये मंडल स्‍तर पर प्रचार प्रसार की जिम्‍मेदारी क्षेत्रीय क्रीडा अधिकारियों को सौंपी गयी है।

यूपी मुख्‍यमंत्री Fellowship Yojana क्‍या है

Fellowship Yojana, Fellowship Programs in India, UP Govt Launched Fellowship Research Programme, CM Fellowship Program UP in Hindi
यूपी मुख्‍यमंत्री फेलोशिप योजना संपूर्णं जानकारी

UP Mukhyamantri Fellowship Yojana Kya Hai : यूपी मुख्‍यमंत्री  फेलोशिप योजना के तहत यूपी की योगी आदित्‍यनाथ सरकार प्रदेश के सभी चयनित शोधार्थी युवाओं को 30 हजार रूपये का स्‍टाइपेंड, 10 हजार रूपये का ट्रेवल अलाउंस व 15 हजार रूपये शोध कार्य में काम आने वाले टेबलेट की खरीद के लिये एकमुश्‍त दिये जायेंगें।

यूपी की यह योजना पूरी तरह प्रदेश के रिसर्च स्‍कॉलर्स को समर्पित है। Chief Minister Fellowship Programme 2022 के तहत आवेदन के बाद चयनित कैंडिडेटस को यूपी सरकार की नीति, मैनेजमेंट तथा उसकी निगरानी में काम करने का मौका हासिल होगा।

इस योजना की सबसे बड़ी विशेषता यह है, यह योजना पूरी तरह से राज्‍य के हिंदी भाषी छात्रों के लिये है। इसलिये इस योजना में उन कैंडिडेटस का चयन आसानी से होगा जो हिंदी भाषा में पूर्णं कमांड रखते हैं।

UP CM Fellowship Yojana के मुख्‍य बिंदू एक नजर में

योजना का नाम – Chief Minister Fellowship Yojana Programme

लागू होने का वर्ष – 2022

कहां लागू हुई – उत्‍तरप्रदेश में

किसने लागू की – मुख्‍यमंत्री योगी ने

लाभार्थी वर्ग – यूपी के युवा

उद्देश्य – युवाओं को सरकार की नीति / प्रबंधन व निगरानी में भागीदार बनाना

आधिकारिक वेबसाइट – cmfellowship.upsdc.gov.in/

Fellowship Yojana के लाभ क्‍या हैं?

यूपी Chief Minister Fellowship Program 2022 के तहत चयनित युवाओं को प्रत्‍येक माह 30000 रूपये का पारिश्रमिक (स्‍टाइपेंड) प्रदान किया जायेगा।

प्रत्‍येक रिसर्च कैंडिडेट को पारिश्रमिक के अलावा टूर अलाउंस के लिये 10000 रूपये महीने का भुगतान भी किया जायेगा।

सभी सिलेक्‍टेड रिसर्च कैंडिडेटस को यूपी मुख्‍यमंत्री फेलोशिप योजना के तहत फर्नीचर / टूल्‍स / टैबलेट आदि खरीदने के लिये एकमुश्‍त 15,000 रूपये प्रदान किये जायेंगें।

सभी चयनित रिसर्च कैंडिडेटस को उनके विकास खंड में ही यथासंभव आवासीय सुविधा उपलब्‍ध कराई जायेगी।

यूपी मुख्‍यमंत्री फेलोशिप स्‍कीम का लाभ उठा कर रिसर्च छात्र छात्रायें अपने शोध कार्य को बिना किसी रूकावट के पूरा कर पायेगें।

इस योजना के तहत छात्रों को इतनी आर्थिक सहायता प्राप्‍त होगी कि उन्‍हें आर्थिक तंगी के चलते अपना Research Work बीच में छोड़ना नहीं पड़ेगा।

रिसर्च कैंडिडेटस को वर्ष में 12 छुटटियां भी मिलेंगी।

मुख्‍यमंत्री फेलोशिप योजना उत्‍तरप्रदेश से संबंधित Eligibility जान लीजिये

  • UP CM Fellowship Program में Apply करने के लिये आवेदकों का ग्रेजुऐशन फर्स्‍ट क्‍लास पास होना बेहद जरूरी है। यानि ग्रेजुएशन में मिनिमम 60% मार्क्‍स होने कंपलसरी हैं।
  • यदि आप देश के किसी मान्‍यता प्राप्‍त यूनिवर्सिटी अथवा प्रीमियर इंस्‍टीटयूट से 60% अंकों के साथ ग्रेजुऐशन अथवा पोस्‍ट ग्रेजुऐशन किये हैं तो आप फेलोशिप योजना के लिये पात्र मानें जायेगें।
  • यह योजना सिर्फ और सिर्फ हिंदी भाषी रिसर्च कैंडिडेटस के लिये है। इसलिये आपको हिंदी भाषा बोलनी व लिखनी आना चाहिये।
  • इस योजना के तहत जो युवा आवेदन करना चाहते हैं, उनके पास फील्‍ड वर्क एक्‍सपीरियंस होना जरूरी है। यह एक्‍सपीरियंस आपको उस फील्‍ड में पॉलिसी पेपर लिखने में आपकी मदत करेगा। जिसके लिये आपका चयन मुख्‍यमंत्री Fellowship Yojana के लिये हुआ है।
  • इस योजना के तहत 40 वर्ष से अधिक आयु के युवाओं को पात्र नहीं माना जायेगा। आवेदन के लिये 40 वर्ष तक की आयु अधिकतम निर्धारित है।
  • इस योजना के लिये वही कैंडिडेटस पात्र माने जायेंगें, जिन्‍हें अच्‍छे से कम्‍पयूटर चलाना आता है। ऐसे युवा जो कंप्‍यूटर पर Data एनालिसिस के काम में निपुण हैं, उन्‍हें चयन में प्राथमिकता दी जायेगी।
  • ऐसे युवा जो पोस्‍ट ग्रेजुऐट व PhD कर चुके हैं, उन्‍हें भी UP CM Fellowship Yojana Apply Online के लिये पात्र माना गया है। योजना के तहत आवेदकों को ग्रेजुएट कैंडिडेटस को 15 नंबर, पोस्‍ट ग्रेजुएट कर चुके कैंडिडेटस को 20 नंबर तथा जिन अभ्‍यर्थियों ने PhD किया है, उन्‍हें 25 नंबर हासिल हो जायेंगें।

UP CM Fellowship Yojana Apply Online कैसे करें

Chief Minister Fellowship Yojana Apply Online : यदि आप इस योजना में आवेदन करना चाहते हैं तो आपको cmfellowship.upsdc.gov.in पर जाकर Online Application Fill करके Submit करना होगा। आवेदन करने के लिये आप ऊपर दिये गये Link पर Click कर सकते हैं।

Fellowship Guidelines
गाइडलांस एक नजर में

ऊपर दिये गये लिंक पर क्लिक करते ही आप मुख्य मंत्री फेलोशिप प्रोग्राम यूपी की आधिकारिक वेबसाइट के होमपेज पर पहुंच जाते हैं।

इस पेज पर आपको Guidelines का एक Option दिखाई पड़ेगा।

जिसके नीचे आपको I have read all Terms and Conditions of CM Fellowship Program 2022-23 का विकल्पe Show करेगा। आपको इस पर टिक मार्क करना है और Proceed बटन पर Click करना है।

UP Fellowship Yojana Apply Online Form Filling Process in Hindi

  • इतना करते ही आप यूपी मुख्यपमंत्री फेलोशिप प्रोग्राम Online Form पर पहुंच जाते हैं।
  • यहां आपको सबसे पहले अपना नाम लिखना है
  • Gender Select करें
  • जन्‍मतिथि इंटर करें
  • नागरिता सिलेक्‍ट करें
  • पिता का नाम इंटर करे
  • माता का नाम इंटर करें
  • Higher Education का उच्च स्‍तर Select करें
  • पत्र व्यवहार का पता लिखें
  • इसके बाद अपना Permanent Address  पता लिखें
  • मोबाइल नंबर दें तथा वै‍कल्पिक मोबाइल नंबर Fill करें
  •  पहचान पत्र देना चाहते हैं, उसका प्रकार Select करें और पहचान पत्र संख्या। इंटर करें
  • ईमेल आईडी इंटर करें। आपके चयन की सूचना इसी मेल पर भेजी जायेगी
  • अपना पासपोर्ट साइज फोटो अपलोड करें
  • अपने हस्ताक्षर की Image Upload करें
  • अंत में UP CM फेलोशिप योजना Online Form सबमिट करके Apply कर दें। इस तरह आप मुख्‍यमंत्री यूपी फेलोशिप योजना के आवेदित कैंडिडेट बन जायेंगें।

फेलोशिप योजना में आवेदन करते समय किन दस्‍तावेजों की जरूरत पड़ेगी

  • उच्‍च शिक्षा से संबंधित सभी शैक्षिक प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड / पैन कार्ड / मतदाता पहचान पत्र आदि में से कोई एक
  • स्‍वयं का ईमेल एड्रेस
  • स्‍वयं का मोबाइल नंबर
  • नवीनतम पासपोर्ट साइज फोटो
  • अपने सिग्‍नेचर की डिजिटल इमेज
  • योजना का उद्देश्य पत्र
  • यूपी का डोमिसाइल प्रमाण पत्र
  • जिला चिकित्‍सा अधिकारी द्धारा निर्गत मेडिकल फिटनेस प्रमाण पत्र

यूपी सीएम फेलाशिप प्रोग्राम के लिये उद्देश्य पत्र कैसे लिखें

UP CM फेलोशिप योजना तहत आवेदन करने वाले युवाओं को उद्देश्य पत्र लिख कर प्रस्‍तुत करना होगा। यह स्‍टेटमेंट कम से कम 500 शब्‍दों का होगा। इसे स्‍टेटमेंट ऑफ परपज (SOP) कहा जाता है। यह दस्‍तावेज योजना में आवेदन करते समय अनिवार्य होगा। बिना इस उद्देश्य पत्रक के आप वैलिड कैंडिडेट नहीं माने जायेंगें।

फेलाशिप योजना यूपी में चयन के बाद ट्रेनिंग कितने दिन की होगी

यदि आपका चयन मुख्‍यमंत्री यूपी फेलोशिप योजना के तहत हो जाता है, तो आपको नियोजन विभाग के द्धारा 14 दिन की ट्रेनिंग दी जायेगी। जिससे चयनित कैंडिडेट को काम करने में कोई परेशानी न हो।

किन किन क्षेत्रों में फेलोशिप योजना के तहत आवेदन किया जा सकता है

  • एग्रीकल्‍चर
  • एनर्जी
  • टूरिज्‍म
  • डेटा साइंस
  • बायोटेक्‍नोलॉजी
  • बैंकिंग
  • पब्लिक पॉलिसी
  • आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस आदि
  • इसके अतिरिक्‍त कुछ अन्‍य क्षेत्रों को भी जरूरत पड़ने पर नियोजन विभाग के द्धारा जोड़ा जा सकता है।

UP Fellowship Yojana 2022 के लिये मुख्‍य नियम व शर्तें

1 – UP Fellowship Program एक पूर्णं कालिक प्रोग्राम है। इसलिये आप इस प्रोग्राम की अवधि में किसी अन्‍य प्रकार का रोजगार असाइनमेंट / पूर्णंकालिक अध्‍ययन कार्य के लिये अनुमन्‍य नहीं होंगें।

2- यूपी फेलोशिप योजना सभी चयनित कैंडिडेटस को भविष्‍य में सरकारी स्‍थायी सेवा / रोजगार की गारंटी प्रदान नहीं करती है।

3 – चयनित रिसर्च कैंडिडेटस के लिये कार्यालय समय वही होगा, जिस कार्यालय अन्‍य कर्मचारियों के लिये Working Time निर्धारित है।

4 – चयनित रिसर्च अथ्‍यर्थी को शोध कार्य के  दौरान अतिरिक्‍त घंटे काम करना पड़ सकता है। जिसके लिये वह मना नहीं कर सकते हैं।

5 – शोधार्थी युवा को यूपी फेलोशिप कार्यक्रम से जुड़ते समय अपन मेडिकल फिटनेस प्रमाण साथ लेकर आयेंगें।

6 – जिन कैंडिडेटस का चयन इस योजना के तहत हो जायेगा, उन्‍हें प्रस्‍ताव पत्र प्राप्‍त होने के बाद अपने कार्यालय में 30 दिनों के भीतर अपना योगदान पत्रक प्रस्‍तुत करना होगा। अन्‍यथा उनका चयन तत्‍काल प्रभाव से नि‍रस्‍त हो जायेगा।

7 – जिन अभ्‍यर्थियों का चयन इस योजना के तहत हो जायेगा उन्‍हें किसी भी राजनैतिक आंदोलन में भाग लेने की अनुमति नहीं होगी।

8 – चयनित शोधार्थी को जनपद / विकासखंड स्‍तर पर अधिक भ्रमण करने की जरूरत पड़ सकती है, जिसके लिये अभ्‍यर्थी मना नहीं कर सकता है।

FAQ – UP FeLLowship Yojana से संबंधित अक्‍सर पूछे जाने वाले सवाल

UP Fellowship Yojana Official Website क्‍या है?

यूपी फेलोशिप प्रोग्राम की आधिकारिक वेबसाइट http://cmfellowship.upsdc.gov.in/ जिसका लिंक आपकी सुविधा के लिये ऊपर दिया गया है।

क्‍या इस योजना के तहत हम ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं?

जी नहीं, इस योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन स्‍वीकार नहीं किये जाते हैं। आपको अपना आवेदन फेलोशिप पोर्टल यूपी पर जाकर करना होगा।

क्‍या फेलोशिप योजना यूपी के लिये मेडिकल फिटनेस प्रमाण पत्र अनिवार्य है?

जी हां, योजना के नियम के अनुसार आवेदक को सक्षम जिला चिकित्‍सा अधिकारी द्धारा निर्गत मेडिकल फिटनेस प्रमाण पत्र साक्षात्‍कार के समय प्रस्‍तुत करना होगा। यह अनिवार्य है। चूंकि शोधार्थी युवाओं को क्षेत्र में भ्रमण करने की आवश्‍यक्‍ता होती है। इसलिये शारीरिक रूप से अक्षम युवाओं को योजना के लिये पात्र नहीं माना गया है।

क्‍या यूपी मुख्‍यमंत्री फेलोशिप योजना में चयनित युवाओं का पुलिस वेरीफिकेशन कराया जायेगा?

जी हां, जिन अभ्‍यर्थियों का चयन इस योजना के तहत हो जायेगा। उनका पुलिस वेरीफिकेशन विभागीय स्‍तर पर अनिवार्य रूप से कराया जायेगा।

योजना के तहत फेलोशिप प्रोग्राम के लिये कैंडिडेस को कितनी फेलोशिप प्राप्‍त होगी?

  • मासिक फेलोशिप – 30,000 रूपये महीना
  • टूर अलाउंस – 10,000 रूपये महीना
  • अन्‍य खर्च हेतु – 15,000 रूपये एकमुश्‍त

क्‍या Chief Minister Fellowship Yojana UP में काम करने के दौरान छुटटी ली जा सकती है?

जी हां, इसके लिये वार्षिक 12 छुटटियों का प्रावधान योजना में किया गया है। लेकिन विभागीय अनुमति जरूरी होगी।

योजना के तहत कुल कितने उम्‍मीदवारों का चयन किया जायेगा?

फेलोशिप योजना में वार्षिक आधार पर प्रतिवर्ष 100 युवाओं का चयन किया जायेगा तथा 50 उम्‍मीदवार प्रतीक्षा सूची में डाले जायेंगें।

इस योजना का सबसे बड़ा फायदा क्‍या है?

यूपी की फेलोशिप योजना का हिस्‍सा बन आप हर महीने कमा सकते हैं 30 हजार रूपये जानने के लिये पोस्‍ट का ऊपरी हिस्‍सा पढ़ें।

यूपी मुख्‍यमंत्री फेलोशिप योजना ऑनलाइन आवेदन कब शुरू हुये और इसकी लास्‍ट डेट क्‍या है?

CM Fellowship Yojana UP में ऑनलाइन आवेदन 10 अगस्‍त 2022 से शुरू हो चुके हैं। इसमें आवेदन करने की अंतिम तिथि 24 अगस्‍त 2022 है।

यूपी मुख्‍यमंत्री फेलोशिप योजना का अंतिम अवलोकन एक नजर में

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट Chief Minister Fellowship Yojana UP Kya Hai यदि आप Fellowship Program Online Form आदि के विषय में कोई अन्‍य प्रश्‍न पूछना चाहते हैं तो आप हमसें कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।

Spread the love

1 thought on “Chief Minister Fellowship Yojana UP क्या है – फेलोशिप योजना यूपी 2022 लाभ / पात्रता / आवेदन”

Leave a comment