Gau Vansh Palan Yojana Se Paise Kaise Kamaye | गौवंश पालन योजना क्या है

Gau Vansh Palan Yojana Uttar Pradesh | गौ वंश पालन योजना से पैसे कैसे पायें | निराश्रित गौ वंश पालन योजना यूपी | Gay Palan Yojana in UP |

उत्‍तर प्रदेश के ग्रामीण तथा शहरी इलाकों में रहने वाले किसानों तथा गरीब नागरिकों के लिये प्रदेश की योगी सरकार के द्धारा एक बड़ी योजना लागू की जाने वाली है।

इस योजना का नाम संभवत: निराश्रित Gau Vansh Palan Yojana Uttar Pradesh होगा। गौ वंश के विकास तथा संरक्षण की दिशा में यह एक बहुत बड़ा और महत्‍वाकांक्षी कदम हो सकता है।

निराश्रित Gau Vansh Palan Yojana यूपी के बारे में अब तक जो नवीनतम जानकारी हमें हासिल हुई है। उसके अनुसार प्रदेश सरकार निराश्रित गौ वंश पालन करने किसानों को प्रति माह, प्रति गौवंश के लिये 900 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

Gau Vansh Palan Yojana क्‍या है?

What is Gau Vansh Palan Yojana in Hindi
गौवंश पशुपालन योजना 2020 की नवीनतम रिपोर्ट

गौवंश पालन योजना क्‍या है? यह जानने से पहले हमें यह जानना जरूरी है, कि यूपी में इस योजना को लागू करने की जरूरत क्‍यों आन पड़ी है?

जैसा कि आप सभी जानते हैं, कि उत्‍तर प्रदेश में गौवंश के संरक्षण के लिये प्रदेश सरकार के द्धारा गौशाला अनुदान योजना चलाई जा रही है।

लेकिन प्रदेश में गौशाला अनुदान योजना पूरी तरह टांय टांय फिस्‍स हो गयी है। कारण यह है कि इस योजना के तहत यूपी में अनेक गौशालाओं का निर्मांण हुआ है।

लेकिन इन गौ शालाओं से हजारों की संख्‍या में गाय, तथा सांढ़ों के मरने की खबरें आती रहती हैं। इसके अलावा गौ शालाओं के बनने के बावजूद शहरों, गांवों, सड़कों तथा हाइवे पर अन्‍ना गायों की संख्‍या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है।

हाइवों तथा शहरों के अंदर अन्‍ना व निराश्रित गौ वंश की बढ़ती संख्‍या से योगी सरकार बहुत परेशान है। यही कारण है कि वह प्रदेश में Gau Vansh Palan Yojana लागू करने का मन बना रही है।

निराश्रित गौवंश पालन योजना उत्‍तर प्रदेश के तहत प्रदेश के किसानों को अन्‍ना गायों को पालने के लिये प्रोत्‍साहित किया जाएगा।

इसके लिये सरकार के द्धारा किसान के खाते में 1 गाय पालने के एवज में हर महीने 900 रूपये सरकारी मदत के रूप में दिये जाएंगें।

Gau Vansh Palan Yojana Uttar Pradesh 2020 के तहत किसान कितनी गाय पाल सकता है?

गौवंश पालन योजना के तहत यदि एक किसान केवल एक गाय पालेगा तो उसे हर महीने 900 रूपये प्राप्‍त होंगें।

लेकिन यदि किसान एक से ज्‍यादा गाय पालेगा तो उसे प्रति गाय 900 रूपये के हिसाब से हर गाय के लिये पैसा मिलेगा।

  • 1 निराश्रित गौवंश पालने पर = 900 रूपये
  • 2 निराश्रित गौवंश पालने पर =  1800 रूपये
  • 3 निराश्रित गौवंश पालने पर =  2700 रूपये
  • 4 निराश्रित गौवंश पालने पर =  3600 रूपये
  • 5 निराश्रित गौवंश पालने पर =  4500 रूपये
  • 6 निराश्रित गौवंश पालने पर =  5400 रूपये
  • 7 निराश्रित गौवंश पालने पर =  6300 रूपये
  • 8 निराश्रित गौवंश पालने पर =  7200 रूपये
  • 9 निराश्रित गौवंश पालने पर =  8100 रूपये
  • 10 निराश्रित गौवंश पालने पर =  9000 रूपये

अभी तक जो जानकारी प्राप्‍त हुई है, उसके अनुसार एक किसान 10 गाय पाल सकता है, लेकिन क्‍या कोई किसान 10 से ज्‍यादा गौवंश पाल सकता है?

इस बात की जानकारी अभी स्‍पष्‍ट नहीं हुई है। आने वाले दिनों में जब यह योजना पूरी तरह लांच हो जाएगी तो इसकी गाइडलाइन में यह लिखा होगा कि किसान अधिकतम कितनी निराश्रित गाय पाल सकता है?

निराश्रित गौ वंश पालन योजना यूपी के लाभ

  • > Gau Vansh Palan Yojana लांच होने के बाद गौशालाओं के बजाए सीधे किसान को गाय पालने पर पैसा मिलेगा।
  • > यह रकम 900 रूपये प्रति गौवंश होगी।
  • > इस योजना के सफल होने पर प्रदेश सरकार को गौशालायें अथवा गौ आश्रय स्‍थलों की स्‍थापना नहीं करवानी पड़ेगी।
  • > गौवंश पालन योजना के तहल पाली जानी वाली गायों से किसानों को अतिरिक्‍त आय भी संभव होगी।
  • > किसान गाय के गोबर से वर्मी कंपोस्‍ट खाद बना कर बेंच कर मुनाफा कमा सकेंगे।
  • > दूध देने वाली गायों से किसानों को दूध तथा दूध से बने अन्‍य उत्‍पादों को बेंच कर पैसा कमा सकेंगे।
  • > किसान गौमूत्र से गोनायल बना कर बाजार में बेंच सकेंगें। इससे गांवों गोनायल इंडस्‍ट्री का विकास होगा।

Gay Palan Yojana in UP 2020 के नुकसान और किसानों की चिंता

जैसे ही Gau Vansh Pashupalan Yojana 2019 UP को लागू किये जाने की चर्चा तेज हुई है, वैसे ही इस बारे में किसानों की कुछ चिंताएं जाहिर हुई हैं।

जिनके बारे में आपको Step by Step जानकारी दी जा रही है।

  • (1) किसानों के अनुसार गौवंश पालन योजना उत्‍तर प्रदेश आकर्षक योजना नहीं है। इस योजना के तहत 1 गाय के लिये प्रति माह 900 रूपये प्रदान किये जा रहे हैं, जो गाय के रोजाना दिये जाने वाले भोजन के लिये 30 रूपया प्रतिदिन होते हैं।
  • (2) किसानों के मु‍ताबिक एक Gau Vansh Palan पर हर महीने 1800 – 2000 रूपये का खर्च आता है। इसलिये 900 रूपये प्रतिमाह की रकम ऊंट के मुंह में जीरे के समान है।
  • (3) किसानों की मांग है कि गौ वंश पालन योजना को केंद्र सरकार की मनरेगा अथवा गोवर्धन योजना से जोड़ दिया जाये ताकि यह एक आकर्षक योजना बन सके।

Gau Vansh Palan Yojana 2020 Se Paise Kaise Kamaye

इस योजना के बारे में आपने पूरी जानकारी हासिल कर ली है। अब आपक मन में यह प्रश्‍न उठ रहा होगा कि Gau Vansh Palan Yojana Se Paise Kaise Kamaye?

तो दोस्‍तों इस योजना के बारे में ठीक ठीक जानकारी तो तभी हासिल हो पायेगी, कि इस योजना में आवेदन कैसे किया जाएगा।

आने वाले कुछ समय में जब यह योजना लागू की जाएगी, तो इस योजना से संबंधित पूरी गाइडलाइन तथा दस्‍तावेज हम सबको देखने को मिल सकेगें।

अब बस इंतजार इस बात का है कि कब यूपी सरकार Gau Vansh Palan Yojana 2020 के लिये बजट का प्रावधान कर इसे लागू करती है।

वैसे इस योजना के तहत मिलने वाले प्रति गौवंश 900 रूपये भी बुरे नहीं हैं। यदि हम किसी प्रकार गौवंश के चारे की व्‍यवस्‍था कर पाते हैं, तो गौवंश से होने वाली आमदनी से हम अच्‍छे पैसे कमा सकते हैं।

Also Read :

Spread the love

Leave a comment