{फार्म} Haryana Rural Area Certificate Kaise Banaye? ग्रामीण क्षेत्र प्रमाणपत्र

Haryana Rural Area Certificate in Hindi : हरियाणा समेत देश के सभी राज्‍यों में ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण यानि Rural Area Certificate एक बहुत ही महत्‍वपूर्णं तथा जरूरी दस्‍तावेज होता है।

इस प्रमाण पत्र को बनवाये जाने की प्रक्रिया देश के सभी राज्‍यों में लगभग समान है। इसलिये आज हम आपको इस पोस्‍ट में यह बतायेंगें कि Haryana Rural Area Certificate कैसे बनाते हैं।

यदि आपने इस पोस्‍ट को ध्‍यान से पढ़ा तो आप यह समझ पायेंगें कि ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र को आप दिल्‍ली, उत्‍तरप्रदेश, मध्‍यप्रदेश, बिहार, मिजोरम, असम, मेघालय, त्रिपुरा, महाराष्‍ट्र आदि में किस प्रकार बनाया जा सकता है।

पूरे भारत में ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र को Online तरीके से बनाये जाने की सुविधा मौजूद है। इसलिये आज आप इस पोस्‍ट में Online Rural Area Certificate बनवाने से संबंधित पूरी जानकारी विस्‍तार से हासिल करेंगें।

Rural Area Certificate क्‍या है? ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र क्‍या है?

संचालक Rural Area Certificate की Details Online Fill करेगा। ईमित्र के द्धारा पूरी जानकारी Fill करते ही आपके फार्म के लिये CRDI ID जैनरेट हो जाएगी।

What is Haryana Rural Area Certificate in Hindi : Rural Area Certificate 2020 को हिंदी भाषा में ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र कहा जाता है।

ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण को बनवा कर कोई भी व्‍यक्ति यह दावा कर पाने में सफल होता है, कि वह भारत के नगरीय क्षेत्र का नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्र का रहने वाला है।

यह एक Important दस्‍तावेज है, इसलिये इसकी जरूरत आपको कभी भी पड़ सकती है। यही कारण है, कि लोग Rural Area Certificate बनवा कर हमेशा अपने पास रखते हैं।

Rural Area Certificate किस काम आता है?

ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र अधिकृत सरकारी Departments के राजपत्रित अधिकारियों के द्धारा निर्गत किये जाते हैं। इसलिये यह बहुत Valuable होता है।

जिन लोगों के पास Rural Area Certificate मौजूद होता है, उन्‍हें उनके राज्‍य में चलाई जा रही ऐसी योजनाओं का लाभ सीधे तौर पर हासिल होता है, जो केवल ग्रामीण क्षेत्रों अथवा ग्रामीणों के लिये चलाई जाती हैं।

इसके अलावा इस प्रमाण पत्र का उपयोग किसी दूसरे राज्‍य की यूनिवर्सिटी में प्रवेश लेने तथा ग्रामीण इलाकों से संबंधित छात्र छात्राओं को फीस में छूट तथा अन्‍य योजनाओं का लाभ लेने में भी किया जा सकता है।

Also Read :

ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र 2020 के लिये जरूरी Documents

  • कोई भी ए‍क पहचान पत्र (आधार कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस मतदाता पहचान पत्र)
  • अपने राज्‍य का मूल निवास प्रमाणपत्र
  • पटवारी तथा सरपंच के द्धारा हस्‍ताक्षर की गयी रिपोर्ट
  • MC के द्धारा हस्‍ताक्षर की गयी रिपोर्ट आदि।

How to Apply for Online Haryana Rural Area Certificate 2020? ऑनलाइन रूरल एरिया सार्टिफिकेट कैसे बनायें

अब हम आपको Haryana ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र Kaise Banaye की जानकारी विस्‍तार से देने जा रहे हैं। आप यहां ध्‍यान रखें कि जिस प्रकार हरियाणा में ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र बनता है, ठीक वैसे ही देश के अन्‍य राज्‍यों में भी बनाया जाता है। आप अपने राज्‍य में Rural Area Certificate बनवाने के लिये इसी तरीके को आसानी से Follow कर सकते हैं।

Rural Area Certificate Application Form in Hindi

ऑनलाइन ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र को हरियाणा में बनवाने के लिये आपको सबसे पहले एक जरूरी Application देनी होती है। जिसका प्रारूप आपको तस्‍वीर के माध्‍यम से दिखाया जा रहा है।

साथ ही सरपंच, पटवारी तथा MC की रिपोर्ट इस Application पर लगाना जरूरी होता है। आपकी सुविधा के लिये नीचे एक लिंक दिया जा रहा है। जिस पर क्लिक करके आप Haryana ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र प्रार्थना पत्र को Download कर सकते हैं।

ऑनलाइन रूरल एरिया प्रमाणपत्र बनवाने के लिये जरूरी चरणबद्ध कदम

  • 1 – आपको सबसे पहले ऊपर दिये गये लिंक पर क्लिक करके Rural Area Certificate Application Form को डाउनलोड करना है और फिर साफ साफ भरना है।
  • 2 – पूरा फार्म भर जाने के बाद आपको इस पर अपने हस्‍ताक्षर करने हैं।
  • 3 – अब शुरू होती है, भरे और हस्‍ताक्षरित फार्म पर रिपोर्ट लगवाने की प्रक्रिया। आप अपने गांव के सरपंच, पटवारी तथा MC से इस फार्म पर सबसे निचले हिस्‍से में रिपोर्ट लगवायें।
  • 4 – फार्म पर रिपोर्ट लग जाने के बाद आपको यह फार्म अपने नजदीकी, लोकवाणी, जनसुविधा केंद्र, ईमित्र आदि के पास लेकर जाना होगा।
  • 5 – ईमित्र केंद्र आदि पर जाने के बाद, संचालक आपके फार्म की गहराई से इस बात की जांच करेगा कि आपने फार्म सही सही भरा है अथवा नहीं।
  • 6 – इसके बाद संचालक Rural Area Certificate की Details Online Fill करेगा।
  • 7 – ईमित्र के द्धारा पूरी जानकारी Fill करते ही आपके फार्म के लिये CRDI ID जैनरेट हो जाएगी।
  • 8 – इसके बाद आपका फार्म सबमिट कर दिया जाएगा। जिसके बाद यह फार्म ऑनलाइन मोड में राजस्‍व विभाग में चला जाएगा।
  • 9 – अब ईमित्र संचालक के द्धारा आपको एक रसीद (पावती) दी जाएगी। जिसे आपको संभाल कर अपने पास रखना है।
  • 10 – अब तहसीलदार कार्यालय में आपके द्धारा दिये गये हरियाणा ग्रामीण क्षेत्र प्रमाणपत्र की जांच पड़ताल की जाएगी।
  • 11 – यदि जांच में कोई कमी पाई जाती है, तो विभाग अपनी आपत्ति लगा कर फार्म आपके ईमित्र संचालक के पास पुन: भेज देगा। जिसके बाद सुधार की प्रक्रिया आप शुरू कर सकते हैं।
  • 12 – लेकिन यदि जांच में आपका Application Form एक दम ठीक पाया जाता है, तो फिर तहसीलदार के द्धारा इस पर डिजीटल हस्‍ताक्षर कर दिये जाएगें। जिसके बाद आपको रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर पर SMS के माध्‍यम से Rural Area Certificate जारी होने की सूचना भेजी जाएगी।
  • 13 – अब अपनी रसीद (पावती) दिखा कर अपने ग्रामीण क्षेत्र प्रमाण पत्र को ईमित्र संचालक से ले सकते हैं।

हरियाणा रूरल एरिया सार्टिफिकेट को बनवाने के लिये शुल्‍क निर्धारित है। इसलिये आवेदन करने से पूर्व लोकवाणी/ईमित्र/जनसुविधा केंद्र/ई डिस्ट्रिक्‍ट केंद्र पर जाकर फीस के संबंध में पूछतांछ जरूर कर लें। यह शुल्‍क अलग अलग राज्‍यों में अलग हो सकता है।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट Haryana Rural Area Certificate Kaise Banaye यदि आप How to Apply for Online Rural Area Certificate से संबंधित कोई प्रश्‍न पूछना चाहते हैं, तो आप पोस्‍ट के नीचे दिये गये कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।

Spread the love

Leave a comment