PM Property Card क्या है? Property Card Kaise Banaye? संपत्ति कार्ड के फायदे

PM Property Card in Hindi : 11 अक्‍तूबर 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांन्‍फ्रेसिंग के माध्‍यम से बहु-प्रतीक्षित PM Property Card वितरण कार्य वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि इस साल अगस्‍त 2020 को लागू की गयी स्‍वामित्‍व योजना के तहत Property Card बनाये जा रहे हैं। यह कार्ड चरणबद्ध तरीके से देश 6.62 लाख गांवों के लोगों को प्रदान किये जायेंगें।

आज पीएम मोदी ने वीडियो कांन्‍फ्रेसिंग के माध्‍यम से आज संपत्ति कार्ड का वितरण करते हुये, 11 अक्‍तूबर 2020 के दिन को Rural Development की दिशा में Landmark Day बताया।

उन्‍होंनें कहा कि PM Property Card देश के भू-स्‍वामियों के लिये बड़ा Game Changer साबित होने वाला है। स्‍वामित्‍व कार्ड के जरिये लोगों को Loan प्राप्‍त करने में बहुत आसानी होगी।

PM Property Card की संपूर्णं जानकारी –

पीएम संपत्ति कार्ड क्‍या है? What is PM Property Card?

PM Property Card Kya Hai : पीएम संपत्ति कार्ड स्‍वामित्‍व योजना के तहत बनाया जाने वाला कार्ड है। यह कार्ड देखने में आधार कार्ड जैसा ही होगा।

प्रधानमंत्री प्रॉपर्टी कार्ड के जरिये कृषि अथवा आवासीय भूमि की पहचान संभव होगी। कहने का मतलब यह कि PM Property Card एक प्रकार का संपत्ति पहचान कार्ड है।

इस कार्ड को देश के पंचायती राज मंत्रालय के ई-ग्राम स्‍वराज पोर्टल के जरिये बनाया जायेगा। लेकिन यह कार्ड आम लोगों की तभी उपलब्‍ध होगा, जब जिला प्रशासन स्‍तर पर गांव का सर्वे तथा डेटा कार्य पूरा हो जायेगा।

गांव का सर्वे पूरा होने के बाद प्राप्‍त डेटा को ई-ग्राम स्‍वराज पोर्टल पर अपलोड किया जायेगा। तत्‍पश्‍चात ही भू-स्‍वामियों को संपत्ति कार्ड जिला स्‍तर पर कैंप लगा कर सौंपें जायेंगें।

PM Property Card के फायदे – Benefits of Property Card

  • इस कार्ड में संपत्ति का पूरा ब्‍यौरा दर्ज किया जायेगा।
  • संपत्ति कार्ड पर जमीन के असली मालिक का ही नाम दर्ज होगा।
  • इस कार्ड के लांच होते ही देश के गरीब, दलित व शोषित वर्ग के लोगों को सीधा लाभ मिलेगा।
  • Property Card के जरिये कोई भी व्‍यक्ति बैंक से लोन ले सकता है।
  • प्रधानमंत्री संपत्ति कार्ड से लोन की प्रक्रिया बहुत सरल हो जायेगी।
  • यह कार्ड किसी भी व्‍यक्ति के स्‍वामित्‍व के बारे में एक दम पारदर्शी सूचना प्रदान करेगा।
  • भू स्‍वामी अब संपत्ति से संपदा की ओर कदम बढ़ा पायेंगें।
  • सभी लोगों को अपने पूर्वजों की भूमि के कागजों के एवज में संपत्ति कार्ड मिल सकेगा।
  • इस कार्ड के लांच होने के बाद गांवों में खेती बाड़ी का कार्य करने वाले किसानों को आसानी हो जायेगी।
  • पीएम संपत्ति कार्ड पूरी तरह वैधानिक होगा। जिसकी कानूनी मान्‍यता होगी।
  • Also Read :
  • आयुष्‍मान भारत गोल्‍डन कार्ड कैसे बनवायें?
  • पीएम किसान क्रेडिट कार्ड कैसे बनवायें?

भू-स्‍वामी अपना PM Property Card Download कैसे करें?

How to download Property Card? यदि आप अपना PM Sampatti Card Download करना चाहते हैं तो आपको SMS के जरिये एक लिंक भेजा जायेगा। जिस पर Click करके आप अपना संपत्ति कार्ड 2020 मोबाइल अथवा लैपटॉप के जरिये Download कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री संपत्ति कार्ड किन किन लोगों को दिया जायेगा?

प्रधानमंत्री संपत्ति कार्ड उन सभी व्‍यक्तियों को प्रदान किया जायेगा। जिनके पास व्‍यक्तिगत अथवा पुश्‍तैनी जमीन है। भूमिहीन व्‍यक्ति इस कार्ड के हकदार नहीं होंगें।

यह कार्ड शहरी / ग्रामीण तथा कृषि / आवासीय भूमि के मालिकों को एक समान रूप से प्रदान किया जायेगा। जिन लोगों के पास वर्तमान में अपनी भूमि से संबंधित कोई कागजात नहीं हैं, उनका नाम ‘’घरौनी’’ नामक दस्‍तावेज में दर्ज कर उसकी नकल प्रदान की जायेगी।

संपत्ति कार्ड 2020 / स्‍वामित्‍व कार्ड 2020 / प्रोपर्टी कार्ड 2020 के लिये क्‍या भूमि की कोई निर्धारित सीमा है?

भारत के संविधान में प्रदत अधिकार के तहत प्रति व्‍यक्ति भूमि अधिकार नियम के तहत ही भूमि सीमा का निर्धारित है। इसमें किसी प्रकार का कोई फेरबदल सरकार के द्धारा नहीं किया गया है।

यदि किसी के पास कम भूमि है, तो भी उसका PM Svamitva Card बनाया जायेगा और यदि कोई अधिक भूमि का मालिक है तो भी उसे स्‍वामित्‍व कार्ड दिया जायेगा।

पीएम स्‍वामित्‍व कार्ड के लिये जरूरी दस्‍तावेज क्‍या हैं?

  • ड्रोन द्धारा किये गये सर्वे की रिपोर्ट
  • आधार नंबर
  • भूमि की खसरा खतौनी की नकल
  • भूमि दस्‍तावेज नहीं होने पर घरौनी की नकल

PM Property Card Kaise Banaye?

PM Property Card को बनवाने के लिये आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है। क्‍योंकि पीएम सम्‍पत्ति कार्ड बनाने का कार्य जिला प्रशासन के स्‍तर पर किया जाता है। जब आपके जिले के कलेक्‍टर के दिशा निर्देश में गांव अथवा शहर में ड्रोन मैपिंग सर्वे कार्य पूरा करा लिया जायेगा। तब उन जमीनों पर काबिज लोगों से संपत्ति के प्रूफ मांगें जायेंगें।

जिनके पास प्रूफ हैं, वह तुरंत कार्यदायी संस्‍था को अपने दस्‍तावेजों की छाया प्रति सौंप देंगें। लेकिन कागजात न होने की स्थिति में भूमि पर काबिज व्‍यक्तियों को घरौनी नामक दस्‍तावेज बना कर दिया जायेगा।

जब डाटा पंचायती राज मंत्रालय के ई-ग्राम स्‍वराज पोर्टल में दर्ज हो जायेगा। उसके बाद Property Card बना कर दिये जाना शुरू हो जायेगा।

यह कार्ड आपको जिला प्रशासन के पंचायती राज विभाग के द्धारा अथवा मोबाइल पर भेजे गये SMS के द्धारा प्राप्‍त होगा।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट PM Property Card क्‍या है? Property Card Kaise Banaye? संपत्ति कार्ड के फायदे यदि आप Download Sampatti Card, Property Card Download से संबंधित कोई अन्‍य प्रश्‍न पूछना चाहते हैं, तो आप हमसें कमेंट बॉक्‍स के जरिय पूछ सकते हैं।

Spread the love

2 thoughts on “PM Property Card क्या है? Property Card Kaise Banaye? संपत्ति कार्ड के फायदे”

  1. नवीन योजना से जुड़ा समाचार लोगों को। जानकारी उपलब्ध करायेगा

    Reply

Leave a comment