[फार्म] Khadi Shop Franchise Ke Liye Avedan Kaise Kare | खादी फ्रेंचाइजी

Khadi Shop Franchise | Apply for Khadi Shop | Khadi Gram Udyog | Khadi Sale 2018 | Khadi Loan | Khadi Products Store Near Me |

Khadi Shop Franchise Ke Liye Avedan Kaise Kare in Hindi
खादी फ्रेंचाइजी आउटलेट योजना

संपूर्णं भारत में खादी के वस्‍त्रों और खादी से बनी अन्‍य सामग्री का बहुत महत्‍व है। खादी भारतीय इतिहास और संस्‍कृति का अहम हिस्‍सा है।

खादी भारत की आज़ादी का भी प्रतीक है। आज़ादी की लड़ाई में खादी ने बड़ी भूमिका निभाई थी। खादी को सम्‍मान दिलाने का श्रेय राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी को दिया जाता है। उन्‍होंनें खादी को स्‍वदेशी आंदोलन से जोड़ा और उसे स्‍वतंत्रा संग्राम का महत्‍वपूर्णं हिस्‍सा बना दिया।

आज आजादी के 71 साल बाद भी खादी से बने कपड़ों का बहुत क्रेज है। पूरे भारत में खादी से बने उत्‍पादों का बाजार लगभग 55000 करोड़ रूपये से भी ज्‍यादा है।

यही कारण है कि गांव से लेकर शहरों तक खादी से बने फैशनेबल कपड़ों की बहुत मांग देखी जाती है। इसी बात को मददेनजर रखते हुए खादी ग्रामोद्धोग आयोग ने Khadi Shop Franchise खोलने के लिये आवेदन पत्र आमंत्रित किये हैं।

Khadi Shop Franchise क्‍या हैं

Khadi Shop Franchise ऐसी दुकानें हैं, जहां पर केवल खादी ग्रामोद्धोग से बने उत्‍पादों को ही बेंचा जाता है।

भारतीय खादी ग्रामोद्धोग आयोग देश के बेरोजगार युवक – युवतियों तथा स्‍वरोजगार के इच्‍छुक लोगों के लिये Khadi Franchise Scheme लेकर आया है।

खादी फ्रेंचाइजी योजना के तहत कोई भी ऐसा व्‍यक्ति खादी की फ्रेंचाइजी खोल सकता है। जिसके पास 300 वर्ग फिट अथवा इससे अधिक जगह मौजूद है।

खादी ग्रामोद्धोग के द्धारा स्‍थापित की जाने वाली Khadi Shop Franchise स्‍थापित करने के लिये आवेदक के पास खुद की दुकान अथवा कम से कम  5 वर्षीय पटटे वाली दुकान का होना बहुत आवश्‍यक है।

आपकी जानकारी के लिये यह बताना आवश्‍यक है, कि Khadi Franchise Outlets से बहुत ज्‍यादा कमाई होती है। यदि कोई व्‍यक्ति इन Khadi Franchise Outlets का संचालन ठीक ढंग से करे तो बहुत पैसे कमा सकता है।

Khadi Shop Franchise Products | खादी की दुकान पर कौन से प्रोडक्‍ट बेंचें जा सकते हैं

इस योजना के तहत खुलने वाली किसी भी Khadi Shop Franchise में Khadi Products के अलावा खादी ग्रामोउद्धोग से जुड़े अन्‍य उत्‍पादों को भी बेंचा जा सकता है।

खादी प्रोडक्‍ट की श्रंखला में हाथ से बने ऊनी व रेशमी वस्‍त्र, डेनिम परिधान जिनमें खादी कपास का पूरा इस्‍तेमाल किया गया हो।

खादी कपास से बनी साडि़यां, कुर्ते, शर्ट, जैकेट, स्‍कार्फ, स्‍टोल आदि शामिल हैं। इस प्रकार के सभी परिधान तथा वस्‍त्र बहुत ही फैशनेबल माने जाते हैं और बाजार में इनकी बहुत मांग है।

इसके अलावा गांव आधारित उत्‍पादों को भी इन Khadi Franchise Outlets में बेंचा जा सकता है। जैसे मिटटी के बर्तन, मिटटी से बने खिलौने, नीबू, दालें, चमड़े से बने उत्‍पाद, साबुन, हाथ से बना कागज, शहद, हर्बल शैंपू आदि उत्‍पादों को इन फ्रेंचाइजी को समुचित स्‍थान दिया जाता है।

Khadi Shop Franchise के लिेय पात्र व्‍यक्ति

  • कोई भी व्‍यक्ति जो खादी आउटलेट खोलने का इच्‍छुक है, पात्र माना जाएगा।
  • साझेदारी फर्म, प्राइवेट कंपनी तथा लिमिटेड कंपनियां भी इस योजना के लिये पात्र हैं।
  • आवेदन कर्ता यदि आर्थिक रूप से मजबूत है, तो वह पात्र माना जाएगा।
  • आवेदक के पास कम से कम 300 वर्ग फिट की दुकान होनी जरूरी है। अच्‍छी लोकेशन वाली दुकान रखने वाला व्‍यक्ति इस योजना के पात्र है।

Khadi Shop Franchise Application Fee | फ्रेंचाइजी के लिये आवेदन शुल्‍क

यदि आप खादी फ्रेंचाइजी आउटलेटस के लिये आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको 5,900 रूपये की फीस आवेदन पत्र के साथ जमा करनी होगी।

इसमें आवेदन का शुल्‍क 5000 रूपये तथा 18% जीएसटी 900 रूपये है। ध्‍यान रहे फीस पूरी तरह Non Refundable है। इसलिये लौटायी नहीं जाएगी।

यह फीस आपको चेक अथवा डिमांड ड्राफ्ट के जरिये Directorate of Marketing, KVIC, Mumbai के पक्ष में देय होगी।

आप चाहें तो इसे NEFT के जरिये भी जमा कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिये KVIC की वेबसाइट पर विजिट करें।

Khadi Shop Franchise के लिये साधारण नियम व शर्तें

आवेदक को यह फ्रेंचाइजी पहले 3 साल के लिये मिलेगी। यदि फ्रेंचाइजी अच्‍छा बिजनेस करेगी तो इस अवधि को आगे भी बढ़ाया जा सकता है। यह विस्‍तार पूर्व निर्धारित शर्तों के आधार पर ही होगा।

फ्रेचाइजी आउटलेटस के खादी व ग्रामोद्धोग के लोगो, रंग व डिजाइन एक समान होगी। फ्रेंचाइजी पाने वाला अपने मन मुताबिक इसमें किसी प्रकार का बदलाव नहीं कर सकता है।

फ्रेंचाइजी पाने को प्रति तिमाही 30 लाख की कम से कम सेल को दिखाना होगा और उसकी रिपोर्ट सबमिट करनी होगी।

खादी के व्‍यवसाय के लिये फ्रेंचाइजी के पास प्रशिक्षित कर्मचारी व अन्‍य सभी सुविधाओं का होना जरूरी है।

खादी की दुकान पर खादी व ग्रामोद्धोग से जुड़े उत्‍पादों की व्‍यापार किया जाएगा। किसी भी सूरत में गैर खादी उत्‍पादों को बेंचा नहीं जा सकेगा।

खादी फ्रेंचाइजी चलाने वाले व्‍यक्ति को जीएसटी समेत अन्‍य वाणिज्‍यक करों का अनुपालन करना अनिवार्य होगा।

फ्रेंचाइजी संचालक माल की आपुर्तिकर्ताओं से प्राप्‍त उत्‍पादों को केवल MRP पर ही बेंच पाएंगें। उससे अधिक मूल्‍य पर नहीं।

फ्रेंचाइजी मालिक उत्‍पादों की पैकिंग तथा लेबल आदि को बदल नहीं सकते हैं।

फ्रेचाइजी केवल उन्‍हीं उत्‍पादों को बेंच सकती है, जो पहले से स्‍वीकृत किये जा चुके हैं। अन्‍य बाहरी उत्‍पादों का विक्रय पूरी तरह प्रतिबंधित है।

फ्रेंचाइजी के साथ किये गए अनुबंध के तहत फ्रेंचाइजी को अपनी खादी आउटलेट का प्रचार करने की अनुमति होगी। पर समझौते का पालन आवश्‍यक होगा।

Khadi Shop Franchise के लिये अनिवार्य नियम

खादी फ्रेंचाइजी को Security Deposit के रूप में 1 लाख रूपये जमा करने होंगे। यह Security Deposit रिफंडेबल है। इसे भी चेक, डिमांड ड्राफ्ट अथवा NEFT के जरिये जमा किया जा सकता है।

फ्रेंचाइजी को प्रति तिमाही कम से कम 30 लाख रूपये का व्‍यापार करना जरूरी होगा। जबकि सालाना टारगेट 1 करोड़ 20 लाख रूपये का होगा।

माल की आपूर्ति करने वाले आपूर्तिकर्ता के गोदाम से माल ले जाने के लिये फ्रेंचाइजी और आपूर्तिकर्ता के बीच परस्‍पर वैधानिक सहमति आवश्‍यक है।

फ्रेंचाइजी दुकान में मौजूद माल तथा फर्नीचर आदि का बीमा अपने स्‍तर पर अनिवार्य रूप से करायेगी।

Khadi Shop Franchise Ke Liye Avedan Kaise Kare | खादी फ्रेंचाइजी

खादी फ्रेंचाइजी के लिये आवेदन करना बहुत ही आसान है। इसके लिये आपको Online Form डाउनलोड करना होगा।

फार्म डाउनलोड करने के बाद आप पूरा फार्म भरें और जरूरी दस्‍तावेजों को संलग्‍न करें। इसके अलावा आप रजिस्‍ट्रेशन फीस भी संलग्‍न करें। और फिर फार्म को डायरेक्‍टर मार्केटिंग, खादी ग्रामोद्धोग आयोग, सूक्ष्‍म, लघु एवं मध्‍यम उद्धम मंत्रालय, भारत सरकार, ग्रामोदय, 03, इर्ला रोड, विले पार्ले (पश्चिम) मुंबई – 400056 के पते पर भेज दें।

लेकिन फार्म भेजने से पहले खादी ग्रमोद्धोग की वेबसाइट पर मौजूद योजना से संबंधित सभी दस्‍तावेजों को अच्‍छी तरह जरूर पढ़ लें।

Also Read :

Image Credit – Pixabay

Spread the love

Leave a comment