Kisan Credit Card Yojana उत्तर प्रदेश में आवेदन कैसे करें

Kisan Credit Card Yojana | Kisan Credit Card Yojana Uttarpradesh | UP Kisan Credit Card | किसान क्रेडिट कार्ड अभियान 2020 |

उत्‍तरप्रदेश के किसान भाइयों के लिये एक बड़ी खुशखबरी है। यूपी की योगी सरकार इस महीने Kisan Credit Card Yojana को बढ़ावा देने के मकसद से प्रदेश व्‍यापी अभियान चला रही है।

Kisan Credit Card अभियान के तहत पूरे उत्‍तरप्रदेश में किसानों को Credit Card बना कर दिये जाएंगें।

इस अभियान के प्रथम चरण में 25 लाख Kisan Credit Card बना कर किसानों को सौंपे जाने हैं। यह अभियान पूरे प्रदेश में 02 जुलाई से 31 जुलाई 2019 तक चलाया जाएगा।

यदि आप किसान हैं और अपने कृषि संबंधी कार्यों के लिये Kisan Credit Card Loan लेना चाहते हैं, तो इससे अधिक सुविधा जनक ऋण कोई दूसरा नहीं हो सकता है।

Kisan Credit Card Yojana क्‍या है?

How to get Kisan Credit Card in Hindi
किसान क्रेडिट कार्ड अभियान

किसान क्रेडिट कार्ड एक प्रकार का Credit Card ही होता है। लेकिन यह विशेष रूप से उन लोगों को प्रदान किया जाता है। जो पेशे से किसान होते हैं।

किसान क्रेडिट कार्ड योजना के माध्‍यम से उत्‍तर प्रदेश के सीमांत तथा लघु श्रेणी के किसानों को व्‍यावसायिक बैंकों के माध्‍यम से समय पर तथा कम ब्‍याज दर पर आवश्‍यक ऋण उपलब्‍ध कराया जाता है।

जिससे किसानों को अपनी फसल की सुरक्षा तथा वैज्ञानिक ढंग से खेती करने में बहुत सहायता मिलती है।

Kisan Credit Card Yojana 2020 के लाभ

  • (1) किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत किसानों को उनकी कठिनाई के समय परिवार की जरूरतों को पूरा करने के लिये तत्‍काल ऋण उपलब्‍ध कराना है।
  • (2) इस योजना का मकसद फसल की कटाई के बाद होने वाले खर्च को वहन करना होता है।
  • (3) कम समय के लिये फसली ऋण को प्रदान की आवश्‍क्‍ता की पूर्ति करना है।
  • (4) Kisan Credit Card Yojana के तहत किसानों को कृषि उपकरणों की मरम्‍मत के लिये ऋण प्रदान करता है।
  • (5) यह कृषक दुर्घटना बीमा योजना के तहत कवर प्रदान करता है।
  • (6) किसान क्रेडिट कार्ड के जरिये कृषि संबंधी अन्‍य खर्चों की पूर्ति के लिये समय पर धन उपलब्‍ध हो जाता है।
  • (7) जिन किसानों के पास किसान क्रेडिट कार्ड होते हैं, और यदि वह समय से अपने ऋण की अदायगी करते हैं, तो उन्‍हें प्रदेश / भारत सरकार के द्धारा घोषित ब्‍याज दरों में कटौती का पूरा पूरा लाभ मिलता है।
  • (8) इस कार्ड का महत्‍व तब और अधिक बढ़ जाता है, जब फसल बीमा योजनाओं, पुर्नगठित मौसम आधारित बीमा योजना के अंतर्गत अधिसूचित फसलों के लिये गये फसली ऋण के लिये अनिवार्य कवर प्रदान करता है।

Also Read :

किसान क्रेडिट कार्ड के तहत Crop Loan का आकलन किस प्रकार करते हैं?

Kisan Credit Card Yojana के तहत मिलने वाले ऋण का आकलन इस प्रकार है –

  • (1) किसी भी फसल के लिये वित्‍त मान + Insurance Premiums x फसली क्षेत्र की सीमा + फसल कटाई के बाद घरेलू उपयोग जरूरतों की Loan सीमा का 10% + Farm Assets रख रखाव खर्च के लिये 20% के आधार पर किया जाता है।
  • (2) किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत खाते से कोई भी निकासी 12 महीने से अधिक समय के लिये बकाया नहीं रहेगी।
  • (3) तीन लाख रूपये तक के ऋण के लिये किसी प्रकार की कोई भी प्रोसेसिंग फीस देय नहीं होती है।

Also Read :

किसान क्रेडिट कार्ड अभियान 2020 Uttarpradesh की प्रमुख विशेषतायें

उत्‍तर प्रदेश में चलाये जा रहे किसान क्रेडिट कार्ड अभियान के तहत पहले चरण में 25 लाख किसानों को रूपे किसान क्रेडिट कार्ड बना कर दिये जाएंगें।

यह क्रेडिट कार्ड उन सभी किसानों को मिलेगा, जो अब तक इस योजना से नहीं जुड़े हैं और जिनके पास किसी भी बैंक का किसान क्रेडिट कार्ड नहीं है।

प्रत्‍येक जिले के जिलाधिकारी इस अभियान के अध्‍यक्ष होंगें तथा लीड बैंक अधिकारी जिला स्‍तरीय बैंकर्स समिति के संयोजक सदस्‍य होंगे। इसके अतिरिक्‍त जिला कृषि अधिकारी सह संयोजक होंगें।

इस अभियान के तहत पूरे प्रदेश के सभी जिलों में बैठकें आयोजित की जाएंगीं तथा बैंक शाखा वार कैंप की तारीखों को तय किया जाएगा और लगने वाले कैंपों तथा तरीखों को खूब प्रचार प्रसार किया जाएगा।

खेती करने वाला किसान पशु पालन अथवा Fish Farming जैसे कार्यों से भी जुड़ा है, तो उसे पशु पालन एवं मत्‍स्‍य पालन हेतू अतिरिक्‍त Loan Limit तय की जायेगी। जो Kisan Credit Card की कुल अधिकतम Limit 3 लाख रूपये के अंतर्गत होगी।

इस अभियान के तहत किसान क्रेडिट कार्ड लेने वाले किसानों को 3% का ब्‍याज लाभ उस समय हासिल होगा, जब वह अपने ऋण की अदायगी समय से कर देंगे।

किसान क्रेडिट कार्ड योजना अभियान के तहत खेतिहर किसानों के समान पशुपालकों तथा मत्‍स्‍य पालकों को भी Credit Card बना कर दिये जाएंगें। वह भी बिना किसी भेदभाव के।

पशुपालकों तथा मत्‍स्‍य पालकों के लिये ऋण की अधिकतम सीमा 2 लाख रूपये होगी तथा इन्‍हें भी समय पर ऋण अदायगी करने पर 3% ब्‍याज छूट का लाभ मिलेगा।

ऐसे पशुपालक तथा मत्‍स्‍य पालक जिनके पास खेती की जमीन नहीं है उन्‍हें भी किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा प्रदान की जाएगी।

किसान Credit Card कैसे बनता है

अब प्रश्‍न यह उठता है कि हमें Kisan Credit Card Kaise Milega या फिर Kisan Credit Card Kaise Banwaye, तो दोस्‍तों आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है।

मैं आपको इसे बनवाने का एक दम सही तरीका बताने जा रहा हूं। इस समय उत्‍तर प्रदेश में किसान क्रेडिट कार्ड अभियान चलाया जा रहा है।

इस समय किसान क्रेडिट कार्ड बनवाना बेहद आसान है। इस समय सभी व्‍यवसायिक बैंक किसान क्रेडिट कार्ड बनाने के लिये शिविर लगा रही हैं।

आपको बस निर्धारित तिथि पर शिविर में जाना है और वहां एक फार्म लेकर भरना है। जिसके बाद बैंक आपसे कुछ जरूरी दस्‍तावेज मांगेगा। जिन्‍हें आप फार्म के संलंग्‍न करके बैंक अधिकारियों को सौंप दें।

यदि जांच में आपका आवेदन पत्र और दस्‍तावेज वैध पाये जाते हैं, जो कुछ दिनों के भीतर ही बैंक के द्धारा किसान क्रेडिट कार्ड बना कर दे दिया जाएगा।

इस अभियान के तहत लगने वाले शिविरों की सबसे बड़ी विशेषता यह है, कि इन शिविरों में मौजूद बैं तथा राज्‍य सरकार के कर्मियों के द्धारा प्रपत्रों को पूर्णं कराने में आपको सहायता प्रदान की जाएगी।

इसके अतिरिक्‍त यदि आप इस योजना के बजाये सीधे किसी बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड बनवाना चाहते हैं। तो आपको किसी भी राष्‍ट्रीकृत बैंक में जाकर बैंक मैनेजर से संपर्क करना होगा।

फिर आप बैंक से Kisan Credit Card Form लेकर भर सकते हैं और उसे जमा कर सकते हैं। इस तरह भी किसान क्रेडिट कार्ड बन जाता है।

Also Read :

Spread the love

3 thoughts on “Kisan Credit Card Yojana उत्तर प्रदेश में आवेदन कैसे करें”

Leave a comment