Nikshay Poshan Yojana Kya Hea | Nikshay Portal 2 | निक्षय पोषण योजना

Nikshay Poshan Yojana | Nikshay Portal 2 | TB Ka Ilaj | TB Treatment in Hindi | TB Treatment in UP | TB Treatment in Rajasthan | TB Treatment in Bihar | TB Treatment in Maharashtra |

Nikshay Poshan Yojana Kya Hea in Hindi
निक्षय पोषण योजना

भारत में टीबी (Tuberculosis) की बीमारी एक गंभीर समस्‍या है। जब देश आज़ाद हुआ था, उस समय तो यह रोग किसी महामारी से कम नहीं था।

टीबी की बीमारी ने देश में अब तक लाखों लोगों की जान ली है। पहले इसका पुख्‍ता इलाज मौजूद नहीं था।

लेकिन आज के भारत में TB की बीमारी का पूरा और पुख्‍ता इलाज मौजूद है। यदि टीबी से ग्रसित मरीज अपना पूरा इलाज कराये तो यह रोग पूरी तरह समाप्‍त हो जाता है।

देश के जिला अस्‍पतालों में अलग से क्षय रोग विभाग बनाये गये हैं, जिनमें टीबी से ग्रसित लोगों को TB Treatment दिया जाता है।

भारत में रोगों के इलाज में एक बड़ी और गंभीर समस्‍या यह है, कि लोग पर्याप्‍त मात्रा में दवा का सेवन नहीं करते हैं और अपना इलाज बीच में ही छोड़ देते हैं।

इसी बात को मददेनजर रखते हुए भारत सरकार ने Nikshay Poshan Yojana की शुरूआत की है। इस योजना के तहत क्षय रोग यानि Tuberculosis से पीडि़त मरीज को हर माह 500 रूपये की सहायता राशि प्रदान की जाती है।

Nikshay Poshan Yojana Kya Hea

Nikshay Poshan Yojana भारत सरकार की एक महत्‍वपूर्णं योजना है। इस योजना के तहत TB से ग्रसित मरीजों का इलाज किया जाता है और उन्‍हें हर माह 500 रूपये दिये जाते हैं।

इस योजना का एक मात्र मकसद यह है, कि टीबी के मरीज अपना पूरा इलाज करायें और स्‍वास्‍थ्‍य लाभ हासिल करें।

टीबी के मरीज को 500 रूपये महीना इसलिये दिया जाता है, ताकि वह उन पैसों से अच्‍छा और पौष्टिक भोजन खा सकें।

टीबी एक ऐसी बीमारी है, जिसके प्रभाव में आकर रोगी दिन पर दिन कमजोर होता जाता है। इसीलिये इस रोग को क्षय रोग भी कहा जाता है।

Nikshay Poshan Yojana | Nikshay Portal 2 से संचालित हो रही है

आपकी जानकारी के लिये यह बताना आवश्‍यक है, कि Nikshay Poshan Yojana भारत सरकार के द्धारा स्‍थापित Nikshay Portal 2 के द्धारा संचालित की जा रही है और यह पूरे देश में लागू है।

पहले भारत में Nikshay Portal 1 संचालित किया जा रहा था। जिसे अपरिहार्य कारणों से केंद्र सरकार ने बंद कर दिया था।

लेकिन 24 सितंबर 2018 को केंद्र सरकार ने निक्षय पोर्टल 2 को लांच कर दिया है। इस पोर्टल के जरिये सरकार पूरे देश में टीबी के मरीजो के लिये TB Treatment उपलब्‍ध करा रही है।

Nikshay Poshan Yojana के तहत देश से Tuberculosis की बीमारी को सन 2025 तक हमेशा के लिये खत्‍म कर देने की योजना है।

Nikshay Poshan Yojana के उद्देश्य

(1) निक्षय पोषण योजना का मुख्‍य उद्देश्य टीबी की बीमारी का देश से हमेशा के लिये खात्‍मा करना है।

(2) टीबी के मरीजों को TB Ka Ilaj पूरा हासिल करने के लिये प्रोत्‍साहित करना है।

(3) निक्षय पोषण योजना के तहत टीबी के मरीजों को पौष्टिक भोजन उपलब्‍ध कराने के लिये सहायता राशि प्रदान करना है।

(4) टीबी के मरीजों को इजाल के लिये अस्‍पतालों तक पहुंचानें के लिये प्रोत्‍साहित करना है।

Nikshay Poshan Yojana के लाभ

(1) इस योजना के तहत टीबी के मरीजों को प्रतिमाह 500 रूपये की धनराशि मिलती है।

(2) मरीजों को Tuberculosis की दवायें एक दम Free में मिलती हैं।

(3) निक्षय पोर्टल 2 पूरी तरह ऑटोमेटेड है। जैसे ही किसी मरीज की जांच सिबिनाट मशीन से की जाती है, तो उसकी पूरी रिपोर्ट तुरंत निक्षय पोर्टल पर पहुंच जाती है।

(4) इस योजना के तहत अब टीबी के मरीजों की औ‍षधि प्रतिरोधी तथा औषधि संवेदनशील मरीजों की अलग अलग फाइल बनाने की आवश्‍यक्‍ता नहीं रह गई है। सब कुछ निक्षय पोर्टल पर सेव हो जाता है।

(5) इस योजना के तहत दवा के पैकेट पर एक टोल फ्री नंबर भी मिलता है। जिस पर मरीज को फोन करके बताना होता है, कि उसने दवा ले ली है।

Nikshay Poshan Yojana योजना के लिये जरूरी दस्‍तावेज

(1) आधार कार्ड

(2) बैंक पासबुक की फोटो कॉपी

(3) IFSC कोड

(4) मोबाइल नंबर

Nikshay Poshan Yojana योजना कैसे काम करती है

निक्षय पोषण योजना सीधे तौर पर Nikshay Portal 2 से जुड़ी हुई है। इसके तहत TB Ka Ilaj किया जाता है।

देश भर के सरकारी अस्‍पताल इससे जुड़े हुए हैं। इसके अलावा निक्षय पोर्टल 2 से निजी अस्‍पतालों, लैब व कैमिस्‍टों को भी इससे जोड़ा गया है।

इसका अर्थ यह है कि यदि आप किसी निजी अस्‍पताल में TB Ka Ilaj कराते हैं, तो भी आपको इस योजना का पूरा लाभ मिलेगा।

इसके अलावा निजी अस्‍पताल में अथवा लैब अपनी जांच कराते हैं, तो सिबिनाट मशीन से जांच कराते ही मरीज की पूरी रिपोर्ट भारत सरकार के निक्षय पोर्टल 2 पर पहुंचती है।

इस योजना से सरकारी अस्‍पतालों के अलावा प्राइवेट अस्‍पताल, लैब व कैमिस्‍ट सभी रजिस्‍टर्ड हैं। इसलिये निक्षय पोषण योजना का लाभ आपको मिलता रहेगा।

Nikshay Poshan Yojana का लाभ कैसे लिया जा सकता है

निक्षय पोषण योजना का लाभ आपको तभी मिल सकता है, जब आप Tuberculosis के मरीज हों। यदि आप किसी भी सरकारी अथवा निजी अस्‍पताल में TB Ke Ilaj के लिये जाते हैं।

तो संबंधित अस्‍पताल अपने स्‍तर पर आपके आधार कार्ड, बैंक खाते की डीटेल तथा मोबाइल के साथ आपका रजिस्‍ट्रेशन निक्षय पोर्टल 2 पर कर देता है।

चूंकि इस पोर्टल पर आप स्‍वयं अपना पंजीकरण नहीं करा सकते हैं। इसलिये अस्‍पताल ही आपका रजिस्‍ट्रेशन करेंगें।

सरकारी अस्‍पताल में टीबी का इलाज कराने पर आपको PHC पर पूरी डीटेल देनी होगी। जिसके बाद आपका रजिस्‍ट्रेशन निक्षय पोषण योजना में हो जाएगा।

रजिस्‍ट्रेशन हो जाने के बाद आपके बैंक खाते में DBT के माध्‍यम से 500 रूपये आना शुरू हो जाएंगे।

Nikshay Poshan Yojana का लाभ किस दशा में मिलेगा

निक्षय पोषण योजना का लाभ उठाने के लिये टीबी के मरीजों को अपना पूरा इलाज कराना अनिवार्य है। जो मरीज अपना इलाज बीच में छोड़ देते हैं, उन्‍हें इस योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा।

ऐसे मरीज जो कैट प्रथम श्रेणी में आते हैं, उन्‍हें 6 माह तक 500 रूपये प्रतिमाह की धनराशि प्रदान की जाएगी।

ऐसे मरीज जो कैट द्धितीय श्रेणी में आते हैं, उन्‍हें 8 माह तक पोषण के लिये 500 रूपये प्रतिमाह की धनराशि दी जाएगी।

इसके अलावा MDR श्रेणी के मरीजों को 24 माह तक इलाज तथा पोषण के लिये 500 रूपये प्रतिमाह दिये जाएंगें।

इस योजना का लाभ देश भर के मरीजों को 1 अप्रैल 2018 से दिया जाना सुनिश्चित किया है। इसलिये जिन मरीजों का इलाज 31 मार्च 2018 तक पूरा हो चुका है। उन्‍हें इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

निक्षय पोषण योजना के तहत सहायता राशि का भुगतान नये मरीजों के मामले में रोगी की पहचान होने पर बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाता है।

दूसरा भुगतान 2 माह तक लगातार दवा खाने के बाद किया जाता है, तथा तीसरा भुगतान 6 माह तक दवा खाने के बाद होता है।

तो दोस्‍तों यह थी मेरी आज की पोस्‍ट। आपको कैसी लगी? कमेंट करके जरूर अवगत करायें। आपकी महत्‍वपूर्णं राय की हमें प्रतीक्षा रहेगी।

Also Read :

Image Credit – Pixabay & Developed By Kanafusi

Spread the love

Leave a comment