सामूहिक मिनी ग्रीन टयूबवेल योजना से सौर ऊर्जा बोरवेल कैसे लगवायें? Samuhik Mini Tubewell Scheme

Samuhik Mini Tubewell Scheme Uttar Pradesh : उत्‍तर प्रदेश में किसानों को सिंचाई के साधन उनके खेत या खेत के पास में ही उपलब्‍ध कराने के लिये एक नयी योजना को मंजूरी प्रदान की गयी है।

इस योजना का नाम का नाम Samuhik Mini Tubewell Yojana है। इस योजना के तहत उ.प्र. के प्रत्‍येक जिले में 5-10 टयूबवेल स्‍थापित किये जायेंगें।

सामूहिक मिनी ग्रीन टयूबवेल योजना को प्रदेश शासन के कैबिनेट ने बाई सर्कुलेशन के द्धारा अपनी मंजूरी दे दी है।

Samuhik Mini Tubewell Yojana UP को मंजूरी मिलने के साथ ही अब वर्ष 2020-21 से लागू माना जायेगा। इस योजना के तहत लगने वाले सभी टयूबवेल पूरी तरह सौर ऊर्जा से चलेंगें।

Uttar Pradesh Samuhik Mini Tubewell Yojana (Borewell Subsidy Scheme) के मुख्‍य बिंदू

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए वर्ष 2020-21 से निजी लघु सिंचाई कार्यक्रम के तहत ‘सामूहिक मिनी ग्रीन ट्यूबवेल योजना शुरू किये जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है। Samuhik Mini Tubewell Scheme Details in Hindi

UP Samuhik Mini Tubewell Yojana Subsidy कितनी है?

Samuhik Mini Green Tubewell Yojana Subsidy Details in Hindi : सामूहिक मिनी टयूबवेल योजना के तहत स्‍थापित होने वाले सौर ऊर्जा टयूबवेल की लागत प्रति Borewell 4.69 लाख रूपये आंकी गयी है।

यूपी मिनी ग्रीन टयूबवेल योजना के तहत इस टयूबवेल को खेत में स्‍थापित करने के लिये भारत सरकार 73 हजार रूपये की धनराशि प्रदान करेगी।

वहीं चूंकि यह योजना राज्‍य आधारित है, इसलिये उत्‍तरप्रदेश सरकार के द्धारा Solar Tubewell के लिये 2.42 लाख रूपये बतौर सब्सिडी दिये जायेंगें। जबकि किसान समूह का कुल अंशदान 1.53 लाख रूपये होगा।

Samuhik Mini Tubewell Yojana Subsidy Calculator

यूपी सामूहिक मिनी ग्रीन टयूबवेल योजना के तहत सामग्री कहां से खरीदनी होगी?

Samuhik Mini Tubewell Yojana के लिये यूपी सरकार ने अपने नियम निर्धारित कर दिये हैं। इस योजना के तहत लगने वाले सभी सौर ऊर्जा चलित टयूबवेल की सामग्री जेम पोर्टल (ZEM PORTAL UTTAR PRADESH) के माध्‍यम से ही खरीदी जायेगी।

सामूहिक मिनी ग्रीन टयूबवेल यूपी की Parent Scheme कौन सी है?

उत्‍तर प्रदेश सरकार ने यूपी सोलर मिनी ग्रीन टयूबवेल योजना को “कुसुम योजना – B” के तहत लांच किया है। यानि कुसुम योजना इसकी Parent Scheme है।

Samuhik Mini Tubewell Yojana का‍ लाभ किसान कैसे उठा सकते हैं?

जैसा कि नाम से ही स्‍पष्‍ट है, कि यह समूह आधारित योजना है। इस योजना का लाभ किसानों को समूह बना कर उठाना होगा। न्‍यूनतम 10 किसानों का समूह इस योजना के लिये पात्र माना जायेगा। समूह मे किसानों की संख्‍या 10 से कम नहीं होनी चाहिये।

यदि समूह लघु एवं सीमांत किसानों ने मिल कर बनाया है, तो उन्‍हें सौर ऊर्जा चलित बोरवेल स्‍कीम में उनका चयन संभव हो सकता है।

सामूहिक मिनी टयूबवेल स्‍कीम के लिये बजट का प्रावधान

वर्तमान समय में यह योजना पायलट प्रोजेक्‍ट के रूप में लागू की गयी है। इसलिये फिलहाल यह 1 वर्ष के लिये प्रस्‍तावित व लागू है।

इस अवधि के दौरान कुल 179 नलकूप उत्‍तर प्रदेश के विभिन्‍न जिलों में स्‍थापित किये जायेगें। जिसके लिये प्रदेश सरकार ने वर्ष 2020-21 के लिये 6 करोड़ रूपये का बजट प्रावधान किया है।

मिनी ग्रीन टयूबवेल योजना के तहत जिलों में टयूबवेल स्‍थापना संबंधी नियम

सामूहिक ग्रीन टयूबवेल योजना यूपी के तहत जिन जिलों का आकार बड़ा है, उन जिलों में 10 सामूहिक नलकूपों का निर्मांण कराया जायेगा।

जिन जिलों का क्षेत्रफल छोटा है, उन जिलों में केवल 5 नलकूप स्‍थापित होंगें। यानि बड़े जिलों में ज्‍यादा और छोटे जिलों में कम।

उत्‍तरप्रदेश सामूहिक मिनी ग्रीन टयूबवेल योजना के लिये जरूरी दस्‍तावेज

  • किसानों के आधार कार्ड
  • खसरा खतौनी की नकल
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • समूह के सभी सदस्‍यो के पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर आदि

Samuhik Mini Tubewell Scheme Uttar Pradesh से सौर ऊर्जा बोरवेल कैसे लगवायें?

Samuhik Mini Tubewell Scheme Me Avedan Kaise Kare : दोस्‍तों, यदि आप लघु एवं सीमांत किसान की श्रेणीं में आते हैं और आप अपने खेत के आसपास सौर ऊर्जा नलकूप लगवाने के लिये Samuhik Mini Tubewell Registration करने पर विचार कर रहे हैं।

तो आप इसके लिये लघु सिंचाई विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। (इस योजना के लिये फिलहाल ऑनलाइन सुविधा मौजूद नहीं है)

इस योजना में आवेदन करने के लिये आप अपने जिले के लघु सिंचाई विभाग तथा कृषि विभाग के कार्यालय में जाकर संपर्क करें। तथा योजना से संबंधित फार्म की मांग करें।

Samuhik Mini Tubewell Yojna Form मिल जाने के बाद 10 अथवा 10 से अधिक किसानों का समूह बनायें और फिर फार्म को भर कर तथा सभी जरूरी दस्‍तावेजों को संलंग्‍न करके जमा कर दें।

आपका आवेदन पत्र जांच में सही पाये जाने की स्थिति में आपके समूह का चयन इस योजना के तहत कर लिया जायेगा और फिर लघु सिंचाई विभाग आपके खेत के आसपास नलकूप लगाने का कार्य आरंभ कर देगा। वहीं सोलर पंप की स्‍थापना कृषि विभाग के द्धारा की जायेगी।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट सामूहिक मिनी ग्रीन टयूबवेल योजना से सौर ऊर्जा बोरवेल कैसे लगवायें? Samuhik Mini Tubewell Scheme यदि आप Samuhik Mini Green Tubewell Yojana, Solar Mini Borewell Scheme UP से संबंधित कोई अन्‍य प्रश्‍न पूछना चाहते हैं, तो आप हमसे कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।

Spread the love

Leave a comment