Swayamsiddha Yojana Me Apply Kaise Kare – Funds for NGOS

राजस्‍थान सरकार के सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता विभाग के द्धारा प्रदेश के NGOS के लिये एक बहुत ही शानदार योजना चलाई जा रही है। इस योजना का नाम Swayamsiddha Yojana है।

Swayamsiddha Yojana Me Apply Kaise Kare
स्वयंसिद्धा योजना

इस योजना के माध्‍यम से राजस्‍थान के Nari Niketan भवनों में रहने वाली बेसहारा, विधवा, परित्‍यक्‍ता महिलाओं को स्‍वरोजगार के लिये निशुल्‍क प्रशिक्षण उपलब्‍ध कराया जाता है।

ताकि वह खुद अपने पैरों पर खड़ी हो सकें। नारी निकेतनों में रहने वाली ऐसी महिलाओं को प्रशिक्षण स्‍वयंसेवी संस्‍थाओं (NGOS) के माध्‍यम से दिया जाता है।

Swayamsiddha Yojana में NGOS के द्धारा Swayamsiddha Kendra संचालित करने के लिये सरकारी अनुदान (Grant) सामाजिक न्‍याय एंव अधिकारिता विभाग के द्धारा प्रदान की जाती है।

Swayamsiddha Yojana में NGOS के लिये पात्रता संबंधी शर्तें

  • स्‍वयंसिद्धा योजना में वही NGOS आवेदन कर सकते हैं, तो कम से कम 3 वर्ष पुराने व विधिवत रूप से पंजीकृत हों।
  • संस्‍था / संगठन / ट्रस्‍ट के पास संस्‍था संचालन का प्रमाणपत्र होना आवश्‍यक है।
  • Swayamsiddha Yojana में वही Society Awedan करने योग्‍य होगी, तो व्‍यक्तिगत लाभ के लिये नहीं चलाई जा रही हो।
  • ऐसी संस्‍था जिसके लक्ष्‍यों और उद्देश्यों में महिला कल्‍याण को प्राथमिकता दी गई है, वह Swayamsiddha Yojana Grant के योग्‍य मानी जाएंगीं।
  • संस्‍था को कभी किसी केंद्र या राज्‍य सरकार के द्धारा काली सूची में न डाला गया हो।
  • संस्‍था की प्रशासनिक संरचना विधिवत रूप से होनी आवश्‍यक है। प्रबंधन / कार्यकारी समिति का गठन विधिवत व पारदर्शी तरीके से होना बहुत जरूरी है।

Swayamsiddha Yojana Grant के लिये जरूरी दस्‍तावेज

यदि आप Swayamsiddha Yojana के तहत Swayamsiddha Kendra संचालन के लिये Awedan करने जा रहे हैं, तो आपकी सं‍स्‍था के पास कुछ दस्‍तावेजों का होना अति आवश्‍यक है। इन दस्‍तावेजों के बारे में नीचे विस्‍तार से बताया ता रहा है।

  • Swayamsiddha Yojana में Grant के लिये आवेदन जरूरी है कि आपके पास सामाजिक न्‍याय अधिकारिता विभाग के द्धारा जारी निर्धारित प्रपत्र हो।
  • स्‍वयंसेवी संस्‍था के द्धारा संस्‍था के‍ विधान की छाया प्रति लगाना आवश्‍यक है।
  • सोसाइटी का पंजीकरण प्रमाणपत्र की छाया प्रति
  • संस्‍था के बारे में संबंधित संभाग के जिलाधिकारी की रिपोर्ट अनुशंसा सहित जारी होनी चाहिए।
  • सोसाइटी के द्धारा गठित नवीनतम कार्यकारिणी की प्रमाणित सूची
  • सोसाइटी के द्धारा किये गए महिला कल्‍याण के क्षेत्रों में किए गए कार्यो व संस्‍था के अनुभव की छाया प्रतियां (फोटो तथा समाचार पत्रों में प्रकाशित समाचार)
  • पिछले 3 सालों की आय व्‍यय विवरण
  • पिछले 3 सालों की संस्‍था की ऑडिट रिपोर्ट (चाटर्ड एकाउंटेंट के द्धारा जारी)
  • Pancard की छाया प्रति
  • Bank Statement की छाया प्रति
  • संस्‍था को राज्‍य / केंद्र / केंद्र सरकार के विभाग / मंत्रालय / निगम / स्‍वायत्‍तशासी संस्‍था के द्धारा संस्‍था के संचालक / संस्‍था अथवा ट्रस्‍ट को काली सूची में न डालने का नॉन ज्‍यूडिशियल शपथ पत्र देना अनिवार्य है।

Swayamsiddha Yojana के तहत Swayamsiddha Kendro के लिये निर्धारित काम

Swayamsiddha Yojana के तहत NGOS को जब Swayamsiddha Kendra संचालन की अनुमति मिल जाती है। तब उन्‍हें निराश्रित / परित्‍यक्‍ता / विधवा महिलाओं के लिये निम्‍नलिखित कार्य करने होते हैं। ऐसे कार्यों के बारे में नीचे बताया जा रहा है। ध्‍यान से पढें।

  • ऐसी महिलायें जिन्‍हें परिवार और सगे संबंधियों के द्धारा त्‍याग दी गई हैं, के हितों के लिये Swayamsiddha Kendra को काम करना होगा।
  • जो महिलायें धार्मिक उन्‍मांद या फिर सार्वजनिक क्षेत्रों में शोषण की शिकार हुई हों।
  • ऐसी महिलायें जो सजा काटने के बाद जेल से मुक्‍त हुई हों और उन्‍हें पुन: परिवार में शरण नहीं मिल रही हो, उनके लिये काम करने होंगें।
  • ऐसी महिलायें जिनका घर किसी प्राकृतिक आपदा में बरबाद हो गया है और वह आर्थिक व सामाजिक सहायता से पूरी तरह वंचित हैं
  • आतंकवाद व धार्मिक कटटरपंथियों की शिकार महिलायें जो नारी निकेतनों में रहती हैं, उनके लिये Swayamsiddha Kendra को काम करना होगा।
  • ऐसी महिलायें जो HIV/AIDS से पीडि़त हैं और उन्‍हें परिवार के द्धारा त्‍याग दिया गया है।
  • ऐसी महिलायें जिन्‍हें देह व्‍यापार / शोषण से मुक्‍त कराई गईं महिलायें / ऐसी किशोरियां अथवा महिलायें जिन्‍होंनें देह व्‍यापार से पलायन किया है, उनके लिये स्‍वयंसिद्धा केंद्रों को काम करना होगा।
  • संस्‍था में प्रवेश लेने वाली महिलाओं व उनके बच्‍चों को Swayamsiddha Yojana के तहत Swayamsiddha Kendra को ही भोजन उपलब्‍ध कराना होगा।
  • Swayamsiddha Kendra को ही महिलाओं के लिये रसोईघर संचालित करना होगा।
  • संस्‍था के केंद्र में जिन महिलाओं को प्रवेश दिया जाएगा। उनकी कार्यक्षमता व योग्‍यता के आधार पर प्रशिक्षण देने का दायित्‍व स्‍वयंसिद्धा केंद्र का ही होगा।
  • महिलाओं को प्रशिक्षण जन शिक्षण संस्‍थान जयपुर तथा अन्‍य किसी मान्‍यता प्राप्‍त संस्‍थान के द्धारा दिलाने की व्‍यवस्‍था Swayamsiddha Kendra की ही होगी।
  • प्रशिक्षण के उपरांत प्रशिक्षणार्थियों को रोजगार उपलब्‍ध कराना या फिर स्‍वरोजगार के लिये Bank Loan दिलाने की जिम्‍मेदारी Swayamsiddha Kendra की ही होगी।
Swayamsiddha Yojana के तहत Fund पाने वाली संस्‍था को इन बातों का ध्‍यान रखना होगा
  • नारी निकेतन भवन पूरी तरह सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता विभाग के ही अधीन रहेगा।
  • नारी निकेतन भवनों की सुरक्षा व देख रेख पूरी तरह नारी निकेतन के अधीन ही होगी। इसमें किसी भी प्रकार का बाहरी हस्‍तक्षेप मान्‍य नहीं होगा।
  • नारी निकतनों के बिजली व पानी के बिलों का संपूर्णं भुगतान नारी निकेतन के द्धारा किया जाएगा।
  • Swayamsiddha Kendra के लिये बिस्‍तर / पलंग / बर्तन आदि की पूरी व्‍यवस्‍था नारी निकेतन तथा सामाजिक न्‍याय विभाग के द्धारा की जाएगी।
  • स्‍वयंसिद्धा केंद्रों में प्रवेश लेने वाली महिलाओं तथा उनके बच्‍चों के लिये आवास अधीक्षक नारी निकेतन के द्धारा उपलब्‍ध कराये जाएंगें।
  • Swayamsiddha Kendra में अधिकतम 50 महिलाओं को ही प्रवेश दिया जा सकेगा। साथ ही एक केंद्र मे कम से कम 25 महिलाओं के प्रवेश अनिवार्य होंगें।
  • स्‍वयंसिद्धा केंद्र में किसी महिला को प्रवेश तभी मिल सकेगा। जब उस महिला को प्रवेश सलाहकार कमेटी के द्धारा अनुमोदन व अनुमति मिल जाएगी।
  • स्‍वयंसिद्धा केंद्रों के द्धारा दिये जा रहे प्रशिक्षण की अवधि कम से कम 3 माह व अधिकतम 1 साल की होगी।
Swayamsiddha Yojana के तहत NGOS को मिलने वाली Grant / Sarkari Sahayta की गणना

Swayamsiddha Kendra स्‍वीकृत हो जाने के बाद NGOS को राज्‍य सरकार के द्धारा निर्धारित दर से Anudan मिलना शुरू हो जाएगा।

एक स्‍वयंसिद्धा केंद्र में 1 चिकित्‍सक की नियुक्ति की जाएगी। जिसके लिये संस्‍था को 3 हजार रूपये महीने के आधार पर वार्षिक अनुदान 36 हजार रूपये मिलेगा।

इसके अलावा 2 Craft Teacher प्रशिक्षण के लिये नियुक्‍त किये जाएंगें। जिनके लिये 10 हजार रूपये मासिक के आधार पर वार्षिक अनुदान 1 लाख 20 हजार रूपये प्राप्‍त होगा।

100 रूपये प्रति महिला के हिसाब से कच्‍चे माल को खरीदा जाएगा। जिसके लिये 5000 रूपये मासिक के अधार पर वार्षिक अनुदान 60000 रूपये प्राप्‍त होगा।

स्‍वयंसिद्धा केंद्रों में रहने वाली महिलाओं का भोजन, रसोईया, चौकीदार, क्‍लर्क, चतुर्थ श्रेणीं कर्मचारी, समाचार पत्र व मैगजीन आदि के लिये मासिक 33,750 रूपये के आधार पर वार्षिक अनुदान 405000 रूपये प्राप्‍त होगा।

Swayamsiddha Yojana Me Awedan Kaise kare | Jankari Hindi Me

Swayamsiddha Yojana के तहत यदि आप अपनी सोसाइटी / संस्‍था के लिये Government Grant पाना चाहते हैं। तो आपको निर्धारित फार्म पर इसके लिये Offline आवेदन करना होगा।

आपको अपना प्रस्‍ताव निर्धारित प्रपत्र पर भर कर फाइल के रूप में सामाजिक न्‍याय व अधिकारिता विभाग में जाकर जमा करना होगा। जिसके बाद आपके द्धारा प्रस्‍तुत फाइल पर विचार किया जाएगा और जांच के उपरांत आपकी संस्‍था को Swayamsiddha Kendra संचालन की अनुमति मिल जाएगी।

इन आर्टिकल को भी जरूर पढ़ें :

Image Courtesy : Pixabay Free Images

Spread the love

Leave a comment