Agneepath Yojana क्या है – अग्निपथ योजना का विरोध क्यों – अग्निपथ योजना के नुकसान

Agneepath Yojana in Hindi : देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने देश के बेरोजगार नौजवानों के लिये एक नयी योजना लांच की है। इस योजना का नाम Agneepath Yojana है। इस योजना के तहत बेरोजगार युवाओं को कांट्रेक्‍ट बेस पर 4 साल की अस्‍थायी नौकरी दी जायेगी।

अग्निपथ योजना को रक्षा संबंधी मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति की मंजूरी मिलने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवाल 14 जून 2022 को Agneepath Yojana को Launch करने की आधिकारिक घोषणा की है।

अग्निपथ योजना के तहत सेना में जाने के इच्‍छुक बेरोजगार युवाओं को 4 साल की अस्‍थायी नौकरी प्रदान की जायेगी। जिसके तहत उन्‍हें प्रथम वर्ष केवल 30000 रूपये का मासिक वेतन मिलेगा जो अगले 4 साल में बढ़ कर 40000 हजार रूपये हो जायेगा। चूंकि यह एक अस्‍थायी नौकरी है, इसलिये देश भर के नौजवान गुस्‍से से भर चुके हैं और बिहार, उत्‍तर प्रदेश, राजस्‍थान, मध्‍यप्रदेश, झारखंड, हरियाणा आदि राज्‍यों हिंसक प्रदर्शन करके अपना विरोध जता रहे हैं।

आज की इस पोस्‍ट में हम आपको Agneepath Yojana in Hindi | Agneepath Scheme | Agneepath Scheme Details | Agniveer Scheme in Hindi | Agnipath Scheme Protest | Agneepath Protest Updates | Agneepath Scheme Pdf | अग्निपथ योजना के नुकसान | अग्निपथ योजना के फायदे आदि के विषय में विस्‍तार से Step by Step जानकारी देने जा रहे हैं। कृप्‍या इस पोस्‍ट को अंत तक ध्‍यानपूर्वक पढ़ें ताकि आपको योजना के सभी पहलुओं की सही जानकारी हासिल हो सके।

Agneepath Yojana क्‍या है – What is Agneepath Scheme in Hindi 2022

Agneepath Yojana Kya Hai - Agnipath Scheme Details in Hindi
अग्निपथ योजना के फायदे व नुकसान की पूरी Details

Agneepath Yojana Kya Hai in Hindi : अग्पिथ योजना अब आधिकारिक रूप से लांच हो चुकी है। इस योजना के तहत चयनित अभ्‍यर्थियों को अग्निवीर के नाम से जाना जायेगा। यह भारत सरकार की महत्‍वाकांक्षी योजना है। इस योजना को लागू करने के पीछे सरकार की मंशा सशस्‍त्र सेनाओं में काम करने वाले लोगों की संख्‍या कम करके सैनिकों के वेतन के रूप में पड़ने वाले बोझ को कम करना है।

Agneepath Scheme के तहत रक्षा मंत्रालय हर साल 46000 जवानों की नियुक्ति करेगा तथा चयनित जवानों को पहले साल 30 हजार रूपये मासिक वेतन देगा। यह वेतन चौथे साल में बढ़ कर 40,000 रूपये हो जायेगा।

इस योजना के तहत कुछ अन्‍य लाभ भी इन अस्‍थायी सैनिकों को दिये जायेंगें। लेकिन चौथे वर्ष के बाद 75% अस्‍थायी जवानों की नौकरी समाप्‍त करके उन्‍हें घर भेज दिया जायेगा।

जिन जवानों को सेना से बाहर का रास्‍ता दिखा कर घर भेजा जायेगा, उन्‍हें सेवा अ‍वधि पूरी होने पर 11.71 लाख रूपये का कर मुक्‍त सेवानिधि पैकेज भी दिया जायेगा। शेष 25% जवानों को सेना में स्‍थायी नियुक्ति प्रदान कर दी जायेगी।

अग्निवीर योजना वैसे तो भारत सरकार की एक महत्‍वाकांक्षी योजना है। जिसका मकसद सेना में नई स्‍थायी नौकरियों पर रोक लगाकर वेतन पर पड़ने वाले खर्च को घटाना है। देश के नौजवानों को योजना से जुड़ी हुईं शर्तें समझ में आ गयी हैं, यही कारण है कि पूरे देश में योजना को लेकर विरोध प्रदर्शन किये जा रहे हैं। बिहार और उत्‍तर प्रदेश में नौजवान उग्र प्रदर्शन कर रहे हैं यहां जगह जगह ट्रेनों में आग लगाई जा रही है तथा पार्टी विशेष के नेताओं के घरों पर भी हमला किया जा रहा है।

Key Highlights for Agneepath Yojana 2022

योजना का नाम – अग्निपथ योजना ( अग्निवीर योजना )

किसने लांच की – रक्षा मंत्रालय ( भारत सरकार)

कब लांच हुई – 14 जून 2022

योजना के लाभार्थी – बेरोजगार युवा

आधिकारिक वेबसाइट – क्लिक करें

Eligibility Criteria for Agneepath Yojana

  • अग्निपथ योजना के तहत देश के 10वीं पास युवा Agniveer बन सकेंगें।
  • योजना के तहत 17 साल 6 माह से लेकर 21 साल तक के युवा इस भर्ती योजना के लिये पात्र माने जायेंगें।

अग्निपथ योजना के फायदे – Benefits of Agneepath Yojana

  • इस योजना के तहत युवाओं को सेना में 4 साल बतौर सैनिक काम करने का मौका मिल सकेगा।
  • अग्निवीरों को स्‍थायी सैनिकों की तरह पदक तथा सम्‍मान आदि दिये जायेंगें।
  • जिन जवानों को 4 साल बाद सेना से निकाल दिया जायेगा, उन्‍हें 11.71 लाख रूपये का Tax Free सेवा‍निधि पैकेज प्रदान किया जायेगा।
  • योजना के तहत भर्ती जवानों को पहले साल 30 हजार रूपये का मासिक वेतन प्राप्‍त होगा जो चौथे साल तक बढ़ कर 40 हजार रूपये मासिक हो जायेगा।
  • सेना में काम करने के बाद 4 साल बाद युवा 12वीं के इम्तिहान में बैठ कर 12वीं कक्षा उत्‍तीर्णं कर सकेंगें।
  • 21 साल का युवा महज 4 साल बाद ही भूतपूर्व सैनिक होने का गौरव हासिल कर लेगा।
  • योजना के तहत भर्ती जवानों में से 25% को सेना में स्‍थायी नौकरी मिल सकेगी।
  • यह एक शार्ट टर्म अस्‍थायी नौकरी है, जिसे करने के बाद युवा चाहें तो खेत में काम करके अपना जीवन बिता सकते हैं या फिर अन्‍य नौकरी हासिल कर सकते हैं।
  • 25% अग्निवीर जिन्‍हें सेना में स्‍थायी नौकरी मिलेगी, उन्‍हें भी 15 साल के लिये चुना जायेगा।
  • योजना के तहत भर्ती जवानों को देश की सुरक्षा व्‍यवस्‍था बनाये रखने की खातिर उन्‍हें अग्रिम मोर्चों पर आगे रखा जायेगा।
  • इस योजना के तहत वायुसेना तथा नौसेना में महिलाओं को भी प्राथमिकता दी जायेगी।
  • सैनिक बनने के बाद युवा यदि उद्धमी बनने का इच्‍छुक है तो उसे वित्‍तीय पैकेज, बैंक ऋण आदि प्रदान किया जायेगा।
  • जो जॉब करना चाहते हैं, उन्‍हें केंद्रीय सुरक्षा बलों में राज्‍य पुलिस में प्राथमिकता मिलेगी।

Agneepath Yojana 2022 के उद्देश्य

Agnipath Yojana का मुख्‍य उद्देश्य तीनों सेनाओं के वेतन – पेंशन के खर्च को कम करना है। जो तेजी से बढ़ रहा है। वर्ष 2022 – 23 के लिये भारत सरकार ने 5,25,166 करोड़ रूपये के रक्षा बजट में भूतपूर्व सैनिकों को दी जाने वाली पेंशन का हिस्‍सा 1,19,696 करोड़ रूपये है।

इसी बात को मददेनजर रखते हुये केंद्र की मोदी सरकार सशस्‍त्र बलों में ठेका प्रथा / संविदा भर्ती / कांट्रेक्‍ट भर्ती जैसे कल्‍चर को बढ़ावा देने का महत्‍वाकांक्षी प्रयास कर रही है।

साथ ही देश के नौजवानों से अपील कर रही है कि वह उसकी इस योजना को समझने का प्रयास करें तथा हिंसा का रास्‍ता छोड़ कर अस्‍थायी नौकरी को देश हित में जरूरी कदम मान कर सरकार की सराहना करें।

Agneepath Scheme Protest Updates Today

Agneepath Yojana Virodh से जुड़ी लगातार अपडेटस आ रही है। अग्निपथ योजना के विरोध की शुरूआत सबसे पहले बिहार से हुई थी। बिहार के कई जिलों में अग्निपथ स्‍कीम के खिलाफ जोरदार उग्र प्रदर्शन जारी है। यहां गुस्‍साये बेरोजगार छात्रों ने कई जिलों में ट्रेनों में आग लगा कर अपना विरोध दर्ज कराया है।

अब विरोध की आग उत्‍तर प्रदेश तक आ पहुंची है। यहां भी बलिया जिले में एक ट्रेन को आग के हवाले किया गया है। इसके अलावा यूपी के भी अनेक जिलों में छात्र उग्र प्रदर्शन कर रहे हैं।

वहीं हरियाणा, मध्‍यप्रदेश, तेलंगाना, झारखंड, आंध्रप्रदेश, महाराष्‍ट्र, उत्‍तराखंड, हिमाचल प्रदेश आदि राज्‍यों में छात्रों ने सड़क पर आकर अग्निवीर योजना योजना के खिलाफ विरोध दर्ज कराना शुरू कर दिया है।

अग्निपथ योजना के नुकसान ( समझें विरोध की वजह )

योजना के तहत भर्ती युवा महज 4 साल में भूतपूर्व सैनिक बन जायेंगें। जिसके कारण उनके विवाह में समस्‍या आयेगी।

अग्निवीर योजना के तहत पेंशन व ग्रेच्‍युटी आदि नहीं दी जायेगी।

75% अग्निवीरों को 4 साल बाद सेना से निकाल दिया जायेगा।

निकाले गये इन सैनिकों को अर्धसैनिक बलों / राज्‍य पुलिस बलों में नौकरी की कोई गारंटी नहीं होगी। क्‍योंकि इन बलों में पहले ही रिक्‍त पड़े पदों की संख्‍या बहुत ज्‍यादा है तथा नई भर्तियां नहीं की जा रही हैं।

इन भूतपूर्व सैनिकों को प्राइवेट जॉब्‍स करके बाकी का जीवन गुजारना होगा। जिसकी सैलरी 10-12 हजार रूपये मासिक से ज्‍यादा नहीं होगी।

युवा 4 साल बाद खेतों में मजदूरी करने को विवश होंगें।

अग्निपथ योजना के कारण सेना में युवाओं के लिये स्‍थायी नौकरी के अवसर घटेंगें।

युवाओं का साफ मानना है कि अग्निवीरों का भविष्‍य असुरक्षित है।

अग्निपथ योजना के तहत सैनिक बनने के बाद युवा 4 साल ऐसे युवाओं के लिये समस्‍या बन जायेंगें जो पुलिस व अर्धसैनिक बलों में नौकरी पाना चाहते हैं, लेकिन सैनिक बनना नहीं चाहते।

यह योजना देश के सशस्‍त्र बलों की क्षमता और देश भक्ति के जज्‍बे में कमी ला सकती है।

सेना से निकाले गये युवा गैर कानूनी गतिविधियों में लिप्‍त होकर जीवन बिताने पर मजबूर हो सकते हैं।

Agnipath Scheme Salary कितनी होगी?

अग्निपथ योजना के तहत भर्ती नौजवानों को प्रथम वर्ष 30 हजार रूपये महीने की सैलरी मिलेगी। जो चौथे साल तक 40 हजार रूपये महीना हो जायेगी।

Agniveer Yojana Age Limit कितनी है?

अग्निवीरों के लिये आयु सीमा 17 साल 6 माह से लेकर 21 माह निर्धारित है।

क्‍या युवाओं के दबाव में सरकार ने Agniveer Yojana Age Limit में बदलाव किया है?

Agnipath Scheme Age limit for 2022
वर्ष 2022 के लिये आयु सीमा में किया गया बदलाव

जी हां, देश में योजना को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शनों के मददेनजर भारत सरकार ने अग्निपथ योजना 2022 के लिये Age Limit में बदलाव किया है। यह फैसला 2 साल से कोरोना के कारण सेना भर्ती बंद होने को लेकर किया है। ऐसे युवा जो पिछले 2 साल से सेना में भर्ती होने के लिये तैयारियां कर रहे थे, वह इस योजना के तहत Over Age घोषित हो चुके थे। चूंकि युवा योजना को लेकर हिंसक प्रदर्शन पर उतारू हैं इसलिये सरकार ने आननफानन में इस साल के लिये अग्निवीर भर्ती आयु सीमा को 23 वर्ष कर दिया है। यह नियम मात्र इस साल के लिये ही प्रभावी है।

FAQ – Agnipath Scheme से जुड़े अक्‍सर पूछे जाने वाले सवाल

What is Agneepath Yojana? Who All Can Apply Check eligibility?

अग्निपथ योजना ठेका / कांट्रेक्‍ट / संविदा आधारित अस्‍थायी नौकरी है। इस योजना के तहत भर्ती जवानों में से 75 प्रतिशत को केवल 4 साल सेना में काम करने का अवसर मिलेगा। इस योजना के तहत 10 पास युवा अस्‍थायी नौकरी के लिये पात्र माने जायेंगें।

नयी Agniveers Upper Age Limit में नया संशोधन क्‍या हुआ है?

वर्ष 2022 के लिये Agniveers Upper Age Limit 21 साल से बढ़ा कर 23 साल कर दी गयी है।

अग्निवीर भर्ती से युवा गुस्‍से में क्‍यों हैं?

सेना में स्‍थायी नौकरी, अच्‍छा वेतन तथा पेंशन न मिलने का सपना टूट जाने से युवाओं के मन में गुस्‍सा है। यही कारण है कि वह सरकार की Agneepath योजना के खिलाफ Protest कर रहे हैं।

Who are eligible for Agneepath Scheme?

अग्निपथ स्‍कीम के लिये कक्षा 10 उत्‍तीर्णं युवक / युवतियां पात्र माने जाते हैं।

क्‍या इस योजना के तहत नौसेना व वायुसेना में भी अस्‍थायी नौकरी हासिल हो सकेगी?

जी हां, थल सेना के अलावा नौसेना तथा वायुसेना में भी 4 साल की अस्‍थायी नौकरी इस योजना के तहत हासिल हो सकेगी।

Agneepath Scheme Pdf Details कहां से Download करें?

Agneepath Scheme Pdf Details को आप भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट Agneepath Yojana Kya Hai – अग्निपथ योजना का विरोध क्यों – Agnipath Yojana Ke Nuksan यदि आप Agneepath Yojana Protest व Agnipath Yojana Latest News Today के बारे में और अधिक जानकारी चाहते हैं तो आप हमसें कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं। आपको हम इस योजना से जुड़ी Latest Updates इसी स्‍थान पर देते रहेंगें।

Spread the love

2 thoughts on “Agneepath Yojana क्या है – अग्निपथ योजना का विरोध क्यों – अग्निपथ योजना के नुकसान”

  1. Aginpath योजना की घोषणा कर सरकार को कार्यावयन शुरू कर देना चाहिए। जो अभ्यर्थी इस योजना को पसंद करेंगेउसका लाभ उठायेंगे। अन्यथा वो अभ्यर्थी ही नहीं बनेंगे।

    Reply

Leave a comment