Krishi Yantra Anudan Yojana Me Avedan Kaise Kare | कृषि यंत्र अनुदान योजना

Krishi Yantra Anudan Yojana UP | Uttar Pradesh Krishi Yantra Anudan Yojana | Krishi Yantra Online UP | Krishi Yantra Registration | उत्‍तर प्रदेश कृषि यंत्र अनुदान योजना |

दोस्‍तों, वर्ष 2021 के लिये उत्‍तरप्रदेश में कृषि यंत्रों की खरीद के लिये राज्‍य के कृषि विभाग के द्धारा Krishi Yantra Anudan Yojana के तहत Krishi Yantra Subsidy प्रदान करने हेतु टोकन आवेदन की ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू हो गयी है।

विगत 09 जून 2021 से कृषि यंत्रों पर सब्सिडी के लिये किसानों से ऑनलाइन आवेदन होना शुरू हो चुके हैं। यदि राज्‍य का कोई किसान Krishi Yantra Anudan UP के तहत खेती के काम आने वाली मशीनरी खरीदना चाहता है, तो वह इस योजना का लाभ उठा सकता है।

अब किसान सीडल, हस्‍त चलित स्‍प्रैयर, मल्‍टीक्राप थ्रेसर, टिलर आदि मशीनरी पर Krishi Yantra Me Subsidy का लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं।

Krishi Yantra Anudan Yojana Online UP में टोकन के लिये आवेदन कैसे होगा?

Krishi Yantra Anudan के तहत Krishi Yantra Subsidy प्रदान करने हेतु टोकन आवेदन की ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू हो गयी है।

How to Apply For Krishi Yantra Anudan Online UP : यदि आप घर बैठे ही कृषि यंत्रों पर मिलने वाली सब्सिडी को प्राप्‍त करना चाहते हैं, तो आपको कृषि विभाग के पोर्टल upagriculture.com पर जाकर कृषि यंत्रों पर सब्सिडी हेतु टोकन निकालना होगा।

आप जैसे ही ऊपर दिये गये लिंक पर क्लिक करेंगें, वैसे ही उत्‍तरप्रदेश पारदर्शी किसान सेवा योजना के आधिकारिक पोर्टल के होमपेज पर पहुंच जाएंगें।

Krishi Yantra Anudan Yojana के तहत Krishi Yantra Subsidy

  • यहां आपको सबसे नीचे की ओर ‘’यंत्र पर अनुदान हेतु टोकन निकालें’’ का एक ऑप्‍शन लिंक के रूप में नजर आएगा। आपको इस पर क्लिक करना है।

कृषि विभाग के पोर्टल upagriculture.com पर जाकर कृषि यंत्रों पर सब्सिडी हेतु टोकन निकालना होगा।

  • Next Page पर पहुंचते ही आपको कई विकल्‍प नजर आएंगें। यहां आपको ‘’यंत्रों की खरीद हेतु टोकन जैनरेट करें’’ के विकल्‍प पर क्लिक करना है।

Krishi Yantra Subsidy Online Form

  • आपके द्धारा क्लिक करते ही एक फार्म खुल जाएगा। जिसमें आपको जरूरी सूचनायें भरनी है।
  • सबसे पहले आप अपने जनपद का चयन करें।
  • किसान पंजीकरण संख्‍या का विकल्‍प चुनें।
  • अपनी पंजीकरण संख्‍या भरें।
  • इसके बाद आप खोजें बटन पर क्लिक करें।
  • इतना करते ही आपका पंजीकरण डाटा स्‍क्रीन पर दिखाई पड़ने लगेगा।
  • अब आप अपने यंत्र का चयन करें और फिर आगे बढ़ें के बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आप फार्म के अगले हिस्‍से में पहुंच जाते हैं। अब आपको कुछ और जरूरी जानकारी Fill करनी हैं तथा मोबाइल नंबर इंटर करना है।
  • आपके द्धारा मोबाइल नंबर इंटर करते ही आपके द्धरा रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा जिसे सामने दिखाई पड़ रहे बॉक्‍स में भरना है तथा सबमिट बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके तुरंत बाद आपका Krishi Yantra UP के तहत आपका टोकन जैनरेट हो जाएगा। जोकि आपके रजिस्‍टर्ड मोबाइल पर पोर्टल के द्धारा Send किया जाएगा।
  • अब आप इसी कृषि यंत्र टोकन 2021 के जरिये अपने कृषि यंत्र की खरीद किसी भी डीलर के यहां से कर सकते हैं।

कृषि यंत्रों पर गलत तरीके से टोकन जैनरेट किया तो डीलरों पर होगी कड़ी कार्रवाही

Notification

राज्‍य के कृषि विभाग ने एक नोटीफिकेशन जारी करके स्‍पष्‍ट रूप से चेतावनी दी है कि यदि उत्‍तर प्रदेश सरकार की कृषि यंत्रीकरण योजना में डीलरों के द्धारा किसी तरह की धांधली की गयी तो उन पर कड़ी कार्रवाही की जाएगी।

कृषि उप निदेशक के अनुसार सरकार को बड़े पैमाने पर शिकायतें मिल रही हैं कि कुछ डीलर कृषि यंत्रों पर मिल रही छूट का लाभ लेने के लिये फर्जी आईडी लगा कर अपने मोबाइल नंबर से टोकन जैनरेट कर रहे हैं।

जिसके कारण किसानों को कृषि यंत्र अनुदान यूपी का लाभ किसानों को नहीं मिल पा रहा है। ऐसे डीलरों को चेतावनी जारी कर दी गयी है तथा गोपनीय जांच भी कराई जा रही है। जो भी डीलर इस प्रकार के भ्रष्‍टाचार में लिप्‍त पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्‍त से सख्‍त कार्रवाही की जाएगी।

Also Read :

यदि बिचौलियों ने Krishi Yantra Subsidy के तहत टोकन जैनरेट करा लिये हैं, तो क्‍या होगा?

यदि कोई बिचौलिया Krishi Yantra Anudan Online UP के तहत अपने मोबाइल नंबर से Tokan जैनरेट करा लेता है, तो उसका टोकन आवेदन तत्‍काल प्रभाव से निरस्‍त कर दिया जाएगा। तथा उसके खिलाफ मुकदमा भी पंजीकृत कराया जा सकता है।

Krishi Yantra Anudan Yojana UP के तहत 80 प्रतिशत अनुदान कैसे मिलेगा

लखनऊ में भारतीय गन्‍ना अनुसंधान संस्‍थान के द्धारा ‘कृषि कुंभ’ का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान Krishi Khumbh में फसल अवशेष प्रबंधन सत्र भी मनाया गया है।

सूबे के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने फसल अवशेष प्रबंधन सत्र को संबोधित करते हुए एक बड़ी जानकारी दी। उन्‍होंनें कहा कि Krishi Yantra Anudan Yojana के तहत यदि किसान 1 साथ 3 कृषि यंत्र खरीदेगा, तो उसे 80 प्रतिशत तक अनुदान दिया जाएगा।

लेकिन यदि कोई किसान केवल किसी 1 यंत्र को ही खरीदता है, तो उसे 50 प्रतिशत का अनुदान देय होगा।

श्री शाही ने कृषि यंत्र अनुदान योजना के बारे में जरूरी जानकारी तो दी ही, साथ में किसानों के लिये उपयोगी अन्‍य योजनाओं के बारे में भी विस्‍तार से बताया।

Krishi Yantra List

  • सुपर स्‍ट्रा मैनेजमेंट सिस्‍टम (super straw management system)
  • श्रब मास्‍टर / कटर कम स्‍प्रेडर
  • हैप्‍पी सीडर मशीन (Happy Seeder Machine)
  • रिवर्सेबुल एम बी प्‍लाऊ (Reversible Plow)
  • कृषि रोटावेटर (Agricultural Rotavator)
  • पैडी स्‍ट्रा चापर / श्रेडर / मल्‍चर
  • जीरो टिल सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल (Zero Till Fertilizer Seed Drill)
  • रोटरी स्‍लैशर(Rotary Slasher)

Krishi Yantra Yojana UP  के लिये जरूरी पात्रता

  • किसान के पास स्‍वयं की कृषि भूमि होना आवश्‍यक है।
  • किसान का पारदर्शी किसान सेवा योजना के तहत पंजीकृत होना जरूरी है।
  • केवल पहले से पंजीकृत किसान ही इस योजना का अनुदान पाने के पाने के हकदार होंगे।

Krishi Yantra Yojana के लिये जरूरी दस्‍तावेज

  • आधार कार्ड
  • Bank पास बुक की छाया प्रति
  • अनुसूचित जाति के किसानों के लिये जाति प्रमाण पत्र
  • बिजली कनेक्‍शन का प्रमाण पत्र

Krishi Yantra Subsidy के लाभ

  • कृषि यंत्रों के इस्‍तेमाल से उपज में बढ़ोत्‍तरी होगी।
  • किसानों के लिये कृषि कार्य करना आसान होगा।
  • कृषि यंत्रों की खरीद से कृषि लागत में कमी आएगी और उपज भी बढ़ेगी।
  • इस योजना में शामिल सभी यंत्र फसल अवशेष के प्रबंधन में किसानों की सहायता करेंगे।
  • इस योजना के तहत कृषि यंत्र खरीदने के लिये किसानों को साहूकारों से कर्ज नहीं लेना पड़ेगा।
  • एक साथ 3 कृषि यंत्र खरीदने पर 80 प्रतिशत अनुदान मिलेगा।
  • केवल 1 कृषि यंत्र की खरीद पर 50 प्रतिशत अनुदान मिलेगा।

कृषि यंत्र अनुदान योजना के तहत सर्वप्रथम किसान पंजीकरण करना अनिवार्य है

इस योजना क तहत उन्‍हीं किसानों को लाभ मिलेगा, जो किसान कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर पारदर्शी किसान सेवा योजना के तहत पंजीकृ‍त है और उनके पास यूजर आईडी व पासवर्ड मौजूद हैं।

इसलिये किसानों को सबसे पहले कृषि विभाग की वेबसाइट पर जाकर खुद को पंजीकृत कराना होगा। उसके बाद ही किसान इस योजना का लाभ उठा पाएंगे।

पारदर्शी किसान सेवा योजना के तहत खुद को पंजीकृत करें। ऊपर टोकन जैनरेट करें वाले लिंक पर क्लिक करने पर आप सबसे पहले पारदर्शी सेवा योजना पोर्टल पर खुद को किसान के रूप में पंजीकृत कर सकते हैं।

य‍दि किसान पहले से कृषि विभाग में पंजीकृत हैं और वह यंत्रों की खरीद योजना में शामिल हो कर अनुदान पाना चाहते हैं।

तो ऐसे किसानों के लिये खुशखबरी है। यदि किसान 6 नवंबर 2018 तक योजना मे शामिल 8 यंत्रों में से कोई 3 यंत्र खरीद कर अपनी रसीद को कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर देते हैं।

तो उन्‍हें बिना किसी प्रतीक्षा सूची में रखे यह छूट सीधे तौर पर मिल जाएगी। यह छूट 80 प्रतिशत अनुदान से संबंधित है।

इस तिथि के बाद रसीद अपलोड करने पर किसानों को अपनी बारी आने का इंतजार करना पड़ सकता है। इसलिये देर न करें। अभी समय है, यंत्रों की खरीद तुरंत कर डालें।

Krishi Yantra Anudan Yojana के तहत अनुदान की राशि कैसे मिलेगी

यदि आपने कृषि यंत्र अनुदान योजना के तहत कोई यंत्र खरीदा है और आपने यंत्र खरीद की रसीद कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर दी है।

तो आपको खरीद पर मिलने वाले 50 – 80 प्रतिशत अनुदान की राशि सरकार के द्धारा सीधे किसान के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी। यनि DBT के द्धारा।

चूंकि किसानों के लिये संचालित सभी योजनायें पारदर्शी किसान सेवा योजना के तहत पूरी व्‍यवस्‍था को पारदर्शी बनाया गया है।

इसलिये कृषि यंत्र अनुदान योजना से संबंधित पूरी व्‍यवस्‍था ऑनलाइन है और डाटा अपलोड होते ही अनुदान भी सीधे किसान के खाते में पहुंचता है।

दोस्‍तों आपको मेरी यह पोस्‍ट Krishi Yantra Anudan Yojana Me Avedan Kaise Kare कैसी लगी? कमेंट के जरिये जरूर अवगत करायें साथ ही सोशल मीडिया पर भी शेयर करें। ताकि इस योजना का ज्‍यादा से ज्‍यादा प्रचार प्रसार हो सके।

Spread the love

3 thoughts on “Krishi Yantra Anudan Yojana Me Avedan Kaise Kare | कृषि यंत्र अनुदान योजना”

  1. बहुत ही अच्छी खबर को आपने इस लेख में साझा किया । यह सचमुच में बहुत ही महत्वपूर्ण साबित हुआ। इस बेहतरीन लेख को साझा करने के लिए आपको thanks!

    Reply
    • पोस्ट आपको उपयोगी लगी और पसंद आई इसके लिये आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

      Reply

Leave a comment