यूपी मुख्यमंत्री Krishak Durghatna Kalyan Yojana में Online आवेदन कैसे करें

Yogi Government Will Launch Biggest Scheme for Farmers in Uttar Pradesh – Scheme Name – UP Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana : दोस्‍तों आने वाले कुछ समय में यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के द्धारा प्रदेश के किसानों के लिये एक बहुत बड़ी योजना का ऐलान किये जाने की प्रबल संभावना बन रही है।

(Latest News – मंगलवार 21 जनवरी 2020 को हुई लखनऊ में हुई कैबिनेट की बैठक में इस योजना को लांच करने की औपचारिक घोषणा कर दी गयी है)

यह योजना यूपी के किसानों के लिये सबसे बड़ी सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने वाली योजना होगी। Krishak Durghatna Kalyan Yojana को मुख्‍यमंत्री कृषक दुर्घटना बीमा योजना की जगह पर लाया जाएगा। क्‍योंकि कृषक दुर्घटना बीमा योजना पिछले साल 2019 में बंद की जा चुकी है।

UP Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana Kya Hai? विस्‍तार से जानें

Yogi Government Will Launch Biggest Scheme for Farmers in Uttar Pradesh – Scheme Name – UP Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana यूपी के ऐसे सभी किसान खातेदार / सह खातेदार जिनकी किसी दुर्घटना में जान चली जाती है, उनके परिवार इस योजना के तहत पात्र मानें जाएंगें।

UP Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana in Hindi 2020 : दोस्‍तों, उत्‍तर प्रदेश सरकार प्रदेश के किसानों को ध्‍यान में रखते हुये उन्‍हें सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने वाली यूपी मुख्‍यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना को मंगलवार 21 जनवरी 2020 को हुई लखनऊ में हुई कैबिनेट की बैठक में मंजूरी दे दी गयी है। इस योजना का लाभ 14 सितंबर 2019 से मिलेगा। जो किसान 14 सितंबर 2019 के बाद किसी दुर्घटना के शिकार हुये हैं, उन्‍हें योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

इस बात की जानकारी कैबिनेट की बैठक खत्‍म हो जाने के बाद लघु उद्धोग मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने पत्रकारों वार्ता करने के दौरान दी। उन्‍होंनें बताया कि इस योजना के दायरे में यूपी के 2 करोड़ से अधिक किसान आएंगें। उन्‍होंनें यह भी बताया कि इस नई योजना से बीमा कंपनियों का दखल पूरी तरह बंद कर दिया गया है। अब इस योजना का संचालन जिलाधिकारियों के माध्‍यम से किया जाएगा।

इस योजना को उत्‍तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना के नाम से जाना जाएगा। यह एक बहुत बड़ी योजना होगी। इस योजना का लाभ यूपी के 2 करोड़ से अधिक किसानों को मिलने की संभावना व्‍यक्‍त की जा रही है।

कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना के तहत यदि प्रदेश के किसान अथवा बटाईदार किसान के साथ किसी प्रकार की दुर्घटना घटित होती है, तो उसे Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana के तहत Financial Support दिया जाएगा।

इस योजना के लाभार्थी किसान की दुर्घटना में मृत्‍यू होने पर उसके परिवार को 5 लाख रूपये की मुआवजा दिया जाएगा। यदि कोई किसान दुर्घटना की चपेट में आकर दिव्‍यांग हो जाता है। तो उसे सरकार की ओर से 5 लाख रूपये तक Financial Support प्रदान किया जाएगा।

Also Read :

Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana क्‍यों लागू की जा रही है?

जैसा कि हम सब जानते हैं, कि उत्‍तरप्रदेश में पिछले कई साल से मुख्‍यमंत्री कृषक दुर्घटना बीमा योजना चल रही थी। जिसे पिछले वर्ष पूरी तरह बंद कर दिया गया है।

पिछली योजना में सरकार के द्धारा लगातार पूरा प्रीमियम दिये जाने के बावजूद प्रदेश के किसानों को सरकार के द्धारा दिये जा रहे प्रीमियम की राशि के बराबर भी बीमा कंपनियों के द्धारा मुआवजा नहीं दिया जा रहा था। यही कारण था कि प्रदेश सरकार ने कृषक दुर्घटना बीमा योजना को बंद करने का बड़ा फैसला किया और पिछले साल बंद कर दिया गया।

अब इसी योजना के स्‍थान पर Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana लायी जा रही है। जिसमें पुरानी योजना की ग‍लतियों को दोहराया नहीं जाएगा।

इसके अलावा प्रदेश सरकार यूपी में सबसे बड़ी सामाजिक सुरक्षा को लांच करके यहां के SC/ST तथा अल्‍पसंख्‍यक वर्ग के लोगों को भी साधने का बड़ा प्रयास कर रही है। क्‍योंकि इन्‍हीं तीनों वर्गों को इस योजना का सबसे अधिक लाभ मिलने वाला है। वैसे यह योजना सभी जातियों तथा धर्मों के लोगों के लिये एक समान रूप से लागू होगी।

Krishak Durghatna Kalyan Yojana यूपी के लिये जरूरी पात्रता क्‍या होगी?

  • यूपी के ऐसे सभी किसान खातेदार / सह खातेदार जिनकी किसी दुर्घटना में जान चली जाती है, उनके परिवार इस योजना के तहत पात्र मानें जाएंगें।
  • प्रदेश की खतौनी में दर्ज खातेदार / सह खातेदार जो दुर्घटना में मृत्‍यू अथवा विकलांगता के‍ शिकार हो जाते हैं, उनके माता-पिता, पति-पत्‍नी, पुत्र-पुत्री, पुत्र वधु, पौत्र-पौत्री, जिनकी आजीविका का प्रमुख साधन खातेदार / सह खातेदार की दर्ज कृषि भूमि से चलती है। वह पात्र मानें जाएंगें।
  • इसके अतिरिक्‍त ऐसे किसान जिनके पास स्‍वयं की भूमि नहीं है तथा वह बटाई अथवा पटटे पर खेती करते हैं, वह तथा उनके आश्रितों को भी इस योजना के तहत पात्र माना जाएगा।
  • ऐसे किसान जो 18-70 वर्ष की आयु के बीच हैं, वह इस योजना के लिये पात्र मानें जाएंगें।
  • असामी पटटेदार, निजी पटटेदार तथा सरकारी पटटेदार किसान इस योजना के लिये पात्र होंगें।

उत्‍तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना की सबसे बड़ी विशेषता क्‍या होगी?

यूपी मुख्‍यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना का क्रियान्‍वयन Online Mode में किया जाएगा। ताकि यह योजना पूरी तरह पारदर्शी बनी रहे।

लेकिन इस योजना की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इस योजना में MANUAL आवेदन भी स्‍वीकार किये जाएंगें। ताकि जिन किसानों को Online Form भरना नहीं आता है, वह MANUAL आवेदन कर सकें।

मुख्‍यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना में कौन कौन सी दुर्घटनाओं को शामिल किया जाएगा?

  • तूफान, आंधी, पेड़ गिरने तथा दबने तथा मकान गिरने से होने वाली दुर्घटनायें
  • सर्पदंश व अन्‍य जीव-जंतुओं के काटने तथा जानवरों के हमले से होने वाली दुर्घटनायें
  • हत्‍या, आतंकवादी हमले, लूट, डकैती, दंगा तथा मारपीट से होने वाली दुर्घटनायें
  • गैस रिसाव, भू-स्‍खलन, भूकंप, बम धमाके तथा सीवर में गिरने से होने वाली दुर्घटनायें
  • रेल, सड़क तथा हवाई यात्रा के दौरान होने वाली सभी प्रकार की दुर्घटनायें
  • आकाश से बिजली गिरने, आग लगने, करेंट लगने तथा बाढ़ आदि से होने वाली दुर्घटनायें
  • कुयें, झील, नदी, नहर, बंबा, चेकडेम, तालाब आदि में डूब जाने से होने वाली दुर्घटनायें

कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना उत्‍तर प्रदेश के तहत मिलने वाली देय सहायता राशि

  • 25% Financial Support – ऐसी स्‍थायी विकलांगता जो 25% से अधिक है लेकिन 50% से कम है
  • 50% Financial Support – ऐसी स्‍थायी विकलांगता जो 50% से अधिक किंतु 100% से कम है
  • 50% Financial Support – 1 आंख, 1 पैर अ‍थवा 1 पैर की क्षति होने पर (तीनों में से कोई एक)
  • 100% Financial Support – 1 हाथ तथा एक पैर की क्षति होने पर
  • 100% Financial Support – दोनों हाथ तथा दोनों पैर की क्षति होने पर
  • 100% Financial Support – दुर्घटना में मृत्‍यू हो जाने पर अथवा पूर्णं रूप से शारीरिक अक्षमता होने की स्थिति में

कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना के तहत अन्‍य योजनाओं की राशि होगी समाहित

यदि दुर्घटना से पीडि़त किसान मृत्‍यू वाले दिन तक प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना से किसी प्रकार की सहायता राशि पाता है अथवा उसे राज्‍य आपदा मोचक निधि से सहायता प्राप्‍त होती है।

तो ऐसी स्थिति में यूपी मुख्‍यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना के तहत दूसरी योजनाओं से सहायता का जो भी अंतर आएगा, उसे इस नवीन योजना के द्धारा पाट दिया जाएगा।

जैसे प्रधानमंत्री बीमा योजनाओं में किसान को अधिकतम 4 लाख रूपये की सहायता प्राप्‍त होती है, तो अंतर 1 लाख रूपये आता है। 1 लाख रूपये का यही अंतर Krishak Durghatna Kalyan Yojana यूपी के द्धारा पाटा जाएगा।

कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना 2020 के लिये नये तथा मुख्‍य नियम की घोषणा

  • यह योजना 14 सितंबर 2019 से प्रभावी मानी जाएगी। तथा 18-70 साल के पात्र किसान को दुर्घटना का शिकार होने की स्थिति में योजना की शर्त के अनुसार 45 दिनों के अंदर अपने जिले के तहसील कार्यालय में आवेदन करना होगा। (अभी सिर्फ Manual आवेदन होगा इसलिये फार्म राजस्‍व विभाग में भर कर जमा करें)
  • दुर्घटना होने के 45 दिन बीत जाने के बाद 1 माह का विलंब होने की दशा में जिलाधिकारी महोदय इस विलंब के लिये क्षमा कर सकते हैं और पीडि़त का आवेदन स्‍वीकार कर सकते हैं।
  • परंतु दुर्घटना के 75 दिन बीत जाने के बाद आवेदन पर किसी प्रकार का कोई विचार नहीं किया जाएगा।

Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana Me Online Avedan Kaise Kare

How to Apply Online for Krishak Durghatna Kalyan Yojana? यदि आप यूपी मुख्‍यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्‍याण योजना में आवेदन करके इसका लाभ उठाना चाहते हैं।

तो इसके लिये आपको Online आवेदन करना होगा। जिसके लिये जल्‍द ही वेबसाइट लांच की जाएगी। इसके अलावा Manual आवेदन की प्रक्रिया का भी Option खुला रखा गया है। जैसे ही इसकी वेबसाइट लांच होगी। हम आपको इसी पोस्‍ट में उससे संबंधित नई जानकारी उपलब्‍ध करायेंगें। इसलिये आप इस पोस्‍ट को बुकमार्क करके रख लें। हम आपको इसी पोस्‍ट में Online आवेदन करने की पूरी जानकारी देंगें।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट UP Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana Kya Hai? यदि आप Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana Me Online Avedan Kaise Kare के संबंध में और अधिक जानकारी पाना चाहते हैं, तो आप हम से कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।

Spread the love

3 thoughts on “यूपी मुख्यमंत्री Krishak Durghatna Kalyan Yojana में Online आवेदन कैसे करें”

    • यह योजना 14 सितंबर 2019 से प्रभावी मानी जाएगी। तथा 18-70 साल के पात्र किसान को दुर्घटना का शिकार होने की स्थिति में योजना की शर्त के अनुसार 45 दिनों के अंदर अपने जिले के तहसील कार्यालय में आवेदन करना होगा। (अभी सिर्फ Manual आवेदन होगा इसलिये फार्म राजस्व विभाग में भर कर जमा करें)
      दुर्घटना होने के 45 दिन बीत जाने के बाद 1 माह का विलंब होने की दशा में जिलाधिकारी महोदय इस विलंब के लिये क्षमा कर सकते हैं और पीडि़त का आवेदन स्वीकार कर सकते हैं।
      परंतु दुर्घटना के 75 दिन बीत जाने के बाद आवेदन पर किसी प्रकार का कोई विचार नहीं किया जाएगा।

      Reply
  1. सर इस योजना का लाभ गरीब मजदूरों को मिलेगा या नही जो मजदूरी कर घर का पालन पोषण करते हैं तथा जिनके नाम कोई किसी भी तरह की जमीन नही है तथा दुर्घटना में जब ऐसे मजदूरो की मौत हो जाती है तो क्या उनके आश्रितों को मुवावजा मिलेगा।

    Reply

Leave a comment