Lockdown क्या है? पूरी जानकारी हिंदी में – Lockdown Meaning in Hindi

Coronavirus Lockdown Latest Update And News | Lockdown in Uttar Pradesh | Lockdown in UP | Lockdown Rajasthan News | Lockdown Districts in India | Lockdown in Punjab | Lockdown in Delhi Full Information in Hindi

आज जनता Curfew के सफलता पूर्वक लागू हो जाने के बाद पूरे देश में Lockdown किये जाने का Process शुरू हो चुका है। देश के कुछ हिस्‍सों में लॉकडाउन जैसे हालात पहले से ही थे। पूरी दुनिया में जिस तरह Coronavirus के शिकार लोगों की संख्‍या में बढ़ोत्‍तरी देखी जा है, तथा भारत में भी कोरोना के पॉजीटिव मरीजों की संख्‍या में दिन प्रतिदिन इजाफा होता जा रहा था। उसे देखते हुये भारत की केंद्र तथा राज्‍य सरकारों का चिंतिंत होना स्‍वाभाविक है।

भारत में कोरोना उस रफ्तार से न फैल सके जिस रफ्तार से वह चीन, इटली, ईरान, अमेरिका आदि देशों फैला है। इसलिये भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुये 12 घंटे का जनता Curfew लगाये जाने की घोषणा की।

उन्‍होंनें देशवासियों से अपील की कि वह जनता Curfew को सफल बनायें। आज 22 मार्च 2020 को देश में जनता Curfew लागू किया गया। आम जनता ने भी कोरोना के खतरे को देखते हुये खुद को घरों के अंदर बंद रखा और इसे पूरी तरह सफल बनाया।

असल में जनता Curfew एक प्रयोग के तौर पर लागू किया गया था। सरकार इसके जरिये यह देखना चाहती थी कि देश की जनता Lockdown के लिये कितनी तैयार है? जैसे ही जनता Curfew का प्रयोग सफल हुआ। देश की अनेक राज्‍यों ने अपने यहां 17 मई 2020 तक लॉकडाउन करने की घोषणा करनी शुरू कर दी है।

Lockdown क्‍या है? Coronavirus Lockdown Kya Hai?

लॉकडाउन के आखिर क्या हैं मायने, क्या होगा बंद, क्या रहेगा खुला, जानें हर सवाल का जवाब - Lockdown District List कैसे देखें

What is Lockdown in Hindi : दोस्‍तों, आज कल हम सब पिछले कुछ दिन से लॉकडाउन शब्‍द के बारे में सुन रहे हैं। भारत में यह शब्‍द कभी भी प्रचलन में नहीं रहा है। लेकिन कोरोना वायरस का आंतक फैलने के बाद से यह शब्‍द बार बार हमारे कानों में सुनाई पड़ रहा है।

क्‍या कभी आपने यह जानने की कोशिश की है कि आखिर यह Lockdown है क्‍या? शायद नहीं, क्‍योंकि हमारे देश में आज से पहले कभी लॉकडाउन जैसी स्थिति पैदा ही नहीं हुई थी।

लॉकडाउन एक प्रकार की इमरजेंसी व्‍यवस्‍था है, जिसके द्धारा किसी शहर अथवा रीजन के निवासियों को घरों के अंदर रहने के लिये बाध्‍य किया जाता है। इस दौरान लोग केवल जरूरी जीवनपयोगी चीजों को प्राप्‍त करने के लिये ही घरों से बाहर निकल सकते हैं।

असल में किसी भी राज्‍य, जिले अथवा शहर को लॉकडाउन करने के दौरान जरूरी सेवाओं को छोड़कर अन्‍य सभी सेवाओं, दुकानों, मॉल आदि को खोलने पर प्रतिबंध लगा दिया जाता है।

लॉकडाउन की अवधि 2 दिन की भी हो सकती है और 2 महीने की भी। यह अवधि उस समस्‍या पर निर्भर करती है, जिसके कारण लॉकडाउन किया जाता है।

इस दौरान कौन कौन से सरकारी दफ्तर खुलेंगें और कौन से बंद रहेंगें इस बात का फैसला भी उस राज्‍य की सरकार करती है। लॉकडाउन के दौरान आवश्‍यक वस्‍तुओं को बेंचनें वाली दुकानें जैसे पसरठ, मेडिकल स्‍टोर, दूध उपलब्‍ध कराने वाली दुकानें, पेट्रोल पंप, आदि खुले रहते हैं।

Lockdown Meaning in Hindi

लॉकडाउन भारत के लिये एक नया शब्‍द है। इसलिये इसके लिये अभी तक कोई हिंदी शब्‍द तय नहीं किया गया है। लेकिन लॉकडाउन का हिंदी में आशय विपरीत परिस्थितियों में लोगों को अपने घरों में तक सीमित रखना है।

लॉकडाउन करने का उद्देश्य क्‍या होता है?

लॉकडाउन का एकमात्र उद्देश्य किसी क्षेत्र विशेष के लोगों की जान बचाना होता है। ताकि लोग अपने घरों में सुरक्षित रहें और बीमारी, दंगा अथवा आतंकवादी हमले के दौरान घरों से बाहर निकल कर खुद को अथवा अपने परिवार को संकट में न डालें।

Lockdown History : लॉकडाउन का इतिहास क्‍या है?

हमारे देश भारत में लॉकडाउन की स्थिति पहली बार उत्‍पन्‍न हुई है। आज से पहले कभी भारत में लॉकडाउन नहीं किया गया है। जब देश कोरोना संकट से पार पा लेगा तब लॉकडाउन भारत के आधुनिक इतिहास में एक अध्‍याय के रूप में अपनी जगह बना लेगा।

लेकिन दुनिया के कुछ देशों में लॉकडाउन पहले भी किया जाता रहा है। अमेरिका ने 9/11 की घटना के बाद अपने देश में लॉकडाउन किया था। इसके बाद 2013‍ में बॉस्‍टन में भी लॉकडाउन किया जा चुका है।

फ्रांस में 2015 में हुये आतंकवादी हमले के बाद ब्रुसेल्‍स में भी लॉकडाउन किया जा चुका है। किसी भी देश की सरकार किसी शहर अथवा राज्‍य को उसी दशा में लॉकडाउन करती है। जब वह जरूरी न हो जाये।

भारत के पर्वतीय राज्‍य कश्‍मीर में हम लॉकडाउन की स्थिति को देख चुके हैं। लेकिन जब कश्‍मीर बंद किया गया था तब भारत में लॉकडाउन शब्‍द ही प्रचलन में नहीं था।

Also Read :

दिल्‍ली को कितने दिनों के लिये लॉकडाउन किया गया है?

दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्‍ली के सभी जिलों को लॉकडाउन किये जाने की औपचारिक घोषणा कर दी है। दिल्‍ली सकार के एक आदेश के अनुसार दिल्‍ली में 17 मई 2020 तक लॉकडाउन की स्थिति बनी रहेगी। जरूरत पड़ने पर इस अवधि को और अधिक बढ़ाया जा सकता है।

लॉकडाउन के दौरान दिल्‍ली में कौन कौन सी सेवाये बंद रहेंगीं?

दिल्‍ली में लॉकडाउन की घोषणा हो चुकी है। इसलिये दिल्‍ली वालों को इस लॉकडाउन के लिये खुद को पूरी तरह तैयार कर लेना चाहिये। इस दौरान दिल्‍ली में बाजार और निम्‍न सेवायें पूरी तरह बंद रहेंगीं।

  • 1 – बाजार पूरी तरह बंद रहेंगें।
  • 2 – शॉपिंग मॉल बंद रहेंगें।
  • 3 – सरकारी दफ्तर बंद रहेंगें (जरूरी सेवायें प्रदान करने वाले विभागों को छोड़ कर)
  • 4 – कल कारखाने बंद रहेंगे।
  • 5 – दिल्‍ली में आने वाली घरेलू तथा अंतराष्‍ट्रीय विमान लैंड नहीं करेंगें।
  • 5 – रेल यातायात पूरी तरह बंद रहेगा।
  • 6 – DTC की 75% बसों का संचालन नहीं किया जाएगा।
  • 7 – मेट्रो रेल बंद रहेगी।
  • 8 – दिल्‍ली से लगने वाले राज्‍यों की सीमाओं को पूरी तरह सील कर दिया जाएगा।
  • 9 – लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकलेंगें (परिवार का कोई 1 सदस्‍य जरूरी सामान लेने बाहर निकल सकता है)
  • 10 – दिल्‍ली में होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों तथा शा‍दी आदि के कार्यक्रम भी बंद रहेंगें (जो कार्यक्रम टल नही सकते ऐसे कार्यक्रमों को जिलाधिकारी की मंजूरी से किया जा सकता है, लेकिन इन कार्यक्रमों में 8-10 लोगों से अधिक संख्‍या में लोग शामिल नहीं हो सकते हैं)
  • 11 – ऑटो रिक्‍शा, ई-रिक्‍शा आदि का संचालन नहीं किया जा सकेगा।

लॉकडाउन रहने के दौरान कौन कौन सी दुकानें खोली जा सकेंगें तथा कौन कौन सी सेवायें मिलती रहेंगीं?

  • बिजली विभाग सुचारू रूप से काम करते रहेंगें।
  • पुलिस विभाग में काम काज चलता रहेगा।
  • जल संस्‍थान कर्मी पूर्व की भांति दफ्तरों में काम करते रहेंगें।
  • पेट्रोल पंप खुले रहेंगें।
  • मेडिकल स्‍टोर खुले रहेंगें।
  • आटा, चावल, दाल जैसी जरूरी सामग्री बेंचनें वाली दुकानें खुली रहेंगीं।
  • सब्जियां उपलब्‍ध कराने वाली कुछ दुकानें खुली रहेंगी।
  • मेडिकल कॉलेज, अस्‍पताल, निजी नर्सिंग होम आदि खुले रहेंगें।
  • दूध उपलब्‍ध कराने वाली दुकानें संचालित होती रहेंगीं तथा दूधिये दूध की सप्‍लाई देते रहेंगें।
  • यदि कोई मरीज किसी दूसरे राज्‍य की सीमा से प्रवेश कर रहा है, तो उस एंबूलेंस अथवा वाहन को रोका नहीं जाएगा।
  • अन्‍य राज्‍यों से जरूरी वस्‍तुओं जैसे खाद्ध सामग्री आदि की आवाजाही अनुमति के बाद होती रहेगी।
  • ATM खुले रहेंगें।
  • बैंकों में सामान्‍य कामकाज होता रहेगा
  • प्रिंट तथा इलेक्‍ट्रानिक मीडिया के पत्रकार तथा स्‍टॉफ पूर्व की तरह कामकाज करते रहेंगें।
  • बहुत आवश्‍यक होने पर अपने निजी वाहन का प्रयोग कर सकेंगें लेकिन यदि बिना उपयुक्‍त कारण के घर से बाहर निकले तो पुलिस कार्रवाही कर सकती है।

Punjab Lockdown News in Hindi 2020

Lockdown in Punjab Latest News : पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पूरे राज्‍य में 17 मई 2020 तक लॉकडाउन किये जाने का औपचारिक ऐलान कर दिया है। इस दौरान आवश्‍यक सेवाओं को छोड़ कर पूरा राज्‍य का काम काज बंद रहेगा। बाजार आदि बंद रहेंगें।

लोग बिना इजाजत अपने घरों से बाहर नहीं निकलेंगें। पंजाब में लॉकडाउन अवधि के दौरान गरीब रजिस्‍टर्ड श्रमिकों को 3000 रूपये का भत्‍ता तथा 1 माह का राशन मुफ्त दिया जाएगा। पंजाब में लॉकडाउन के दौरान सार्वजनिक परिवहन की बसों आदि को अच्‍छी तरह सैनेटाइज किया जाएगा। तथा जगह जगह दवाओं का छिड़काव भी किया जाएगा।

Lockdown in Uttar Pradesh

जनता Curfew की सफलता से उत्‍साहित होकर उत्‍तरप्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने भी पहले चरण में यूपी के 15 जिलों को लॉकडाउन किये जाने की घोषणा कर दी है। यह वह जिले हैं, जहां कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज पाये गये हैं अथवा कोरोना के संदिग्‍ध मरीजों को आइसोलेशन में रखा गया है। यूपी में लॉकडाउन के दौरान श्रम विभाग में पंजीकृत मजदूरों को 1000 रूपये का भत्‍ता दिये जाने की घोषणा की है।

क्‍या दिल्‍ली में लॉकडाउन के दौरान सरकारी तथा निजी संस्‍थानों / फैक्ट्रियों के कर्मचारियों को सैलरी मिलेगी?

जी हां दोस्‍तों, लॉकडाउन की अवधि के दौरान सरकारी कर्मचारियों को वेतन दिया जाएगा। इसके अलावा उद्धोग जगत में कार्यरत कर्मचारियों को भी सैलरी प्रदान की जाएगी। यदि कोई कंपनी इस अवधि का पैसा अपने कर्मचारियों को देने से मना करती है, तो उस कंपनी / संस्‍थान के ऊपर दिल्‍ली सरकार के द्धारा उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाही की जाएगी।

Lockdown District List कैसे देखें

संपूर्णं भारत में 17 मई 2020 तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। देश के सभी राज्‍यों में अलग अलग जिलों व शहरों का Red, Orange & Green Zone में बांटा जा रहा है। इन रंगों के आधार पर ही उन इलाकों में कुछ छूट प्रदान की जाएगी। पूरे देश में आने वाले कुछ समय तक लॉकडाउन की स्थिति बनी रहेगी। यह स्‍थ‍िति कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्‍या के आधार पर तय होगी। एक अनुमान के अनुसार लॉकडाउन से छूट उसी दशा में संभव होगी जब संक्रमित व्‍यक्तियों की संख्‍या में गिरावट आये अथवा कोविड-19 से‍ निपटने के लिये बाजार में कोई टीका आ जाये। लेकिन फिलहाल ऐसी किसी वैक्‍सीन की निकट समय में आने की कोई संभावना नजर नहीं आ रही है।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट Lockdown Kya Hai, What is Lockdown in Hindi यदि आप Lockdown In India Districts Name List से संबंधित कोई अन्‍य प्रश्‍न पूछना चाहते हैं तो आप हमसें कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।

Spread the love

2 thoughts on “Lockdown क्या है? पूरी जानकारी हिंदी में – Lockdown Meaning in Hindi”

  1. महत्वपूर्ण सूचना के लिये धन्यवाद।।……..

    Reply

Leave a comment