नयी सोशल मीडिया गाइडलाइंस क्या है? New Social Media Guidelines / Rules in India

New Social Media Guidelines / Rules in Hindi : Govt frames new rules to hold social media OTT accountable for Content latest News & Information in Hindi – भारत सरकार के सूचना प्रौद्धोगिकी एवं संचार मंत्रालय ने इंटरमीडियरी गाइडलाइंस एंड मीडिया एथिक्‍स कोड के नाम से नये दिशा निर्देश जारी किये हैं। जो सीधे तौर पर भारतीय सोशल मीडिया गाइडलाइंस से संबंधित हैं।

इन दिशा निर्देशों का सभी देशी विदेशी नागरिकों तथा ऑनलाइन कंटेंट प्रदान करने वाली कंपनियों / मीडिया संस्‍थानों तथा सोशल मीडिया का व्‍यक्तिगत रूप से इस्‍तेमाल करने वाले लोगों को अध्‍ययन करना जरूरी है।

देश की केंद्र सरकार ने 25 फरवरी 2021 को सोशल मीडिया पर सख्‍ती दिखाते हुये New Social Media Guidelines जारी कर दी हैं। अब नयी गाइडलाइंस आ जाने के बाद Digital व Online Media को भी कानून के दायरे में लाया गया है।

जिसको लेकर देश के राजनैतिक / सामाजिक हलकों में नई गाइडलाइंस को लेकर एक नयी बहस छिड़ गयी है। लोग सोशल मीडिया तथा इंटरनेट को पाबंदी के दायरे में लाये जाने से सरकार को शक भरी निगाह से भी देख रहे हैं। इसे अभिव्‍यक्ति की आज़ादी व सूचना के प्रसार पर सरकारी अंकुश के तौर पर भी देखा जा रहा है।

New Social Media Guidelines क्‍या है? नये भारतीय सोशल मीडिया दिशा निर्देश 2021

All About New Social Media Guidelines in Hindi
सोशल मीडिया दिशा निर्देशों को जानें

What is New Social Media Guidelines in Hindi : देश की मोदी सरकार के सोशल मीडिया को लेकर नई गाइडलाइन जारी की है। जिसके अंतर्गत फेसबुक, टिवटर जैसे सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म तथा नेटफिलिक्‍स, अमेजन प्राइम जैसे Over the Top ( OTT ) प्‍लेयर का दुरूपयोग रोकने के लिये नये दिशा निर्देश जारी किये हैं।

आपकी जानकारी के लिये यह बता दें, कि नयी गाइडलाइन के अनुसार अब सोशल मीडिया का प्रयोग करने वाले व्‍यक्तियों / संस्‍थानों / राजनैतिक / अराजनैतिक / मीडिया कंपनियों पर कानूनी शिकंजा कस गया है।

अब सरकार द्धारा चिन्हित की गयी सामग्री को 24 घंटे के अंदर हटाना अनिवार्य होगा। साथ देश में तीन स्‍तरीय निवारण तंत्र की स्‍थापना भी करनी होगी। New Social Media Guidelines के मुताबिक विश्‍व के सभी सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म को यह भी अवगत कराना होगा कि माहौल खराब करने वाले टवीट अथवा संदेश सबसे पहले किसने भेजे।

New Social Media Guidelines 2021 जारी करने के पीछे सरकार का तर्क क्‍या है?

नयी सोशल मीडिया गाइडलाइंस जारी करने के लिये सरकार ने तर्क दिया है कि यह दिशा निर्देश भारत की अखंडता / एकता / सुरक्षा के साथ साथ सामाजिक व्‍यवस्‍था / दूसरे देशों के साथ रिश्‍ते / दुश्‍कर्म / यौन शोषण जैसे मामलों पर निगरानी जरूरी है।

नई सोशल मीडिया गाइडलाइन के अनुसार अब कंपनियों को क्‍या करना होगा?

भारत में नयी सोशल मीडिया गाइडलाइंस जारी हो जाने के बाद अब सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म / मीडिया संस्‍थानों को हर महीने शिकायतों तथा उन पर की जाने वाली कार्रवाही की जानकारी सरकार के साथ साझा कर सबंधित रिपोर्ट सौंपनी होगी।

नयी सोशल मीडिया गाइडलाइन में Digital News Media के लिये क्‍या प्रावधान है?

चूंकि नयी सोशल मीडिया गाइडलाइन 2021 जारी हो जाने के बाद Digital News Media के प्रकाशक को प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया और केबल टीवी नेटवर्क रेगुलेशन एक्‍ट से जुड़े नियमों का मानना जरूरी होगा।

अब प्रिंट / टीवी / डिजीटल मीडिया के बीच नियमन की व्‍यवस्‍था एक जैसी ही होगी। इसके लिये प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया की तरह आत्‍म नियामक निकाय बनाया जाना भी संभव होगा।

नयी सोशल मीडिया गाइडलाइन कब से कानून का रूप ले लेगी

New Social Media Rules 2021 गजट नोटिफिकेशन के बाद सोशल मीडिया कंपनियों को नये नियमों के तहत खुद को ढालने व व्‍यवस्‍था बनाने के लिये 3 माह का समय दिया जायेगा।

ऐसा इसलिये किया जा रहा है ताकि मीडिया प्‍लेटफार्म को अपनी पुरानी प्रक्रियाओं को नया स्‍वरूप देने में समय मिल सके।

इस time limit के पूरा हो जाने के बाद नये Social Media Rules 2021 लागू हो जायेंगें। लेकिन OTT व Digital News के लिये कानून उसी दिन प्रभाव में आ जायेंगें, जिस दिन भारत सरकार के द्धारा नोटिफिकेशन जारी किया जायेगा।

OTT सामग्री की शिकायतों का निपटारा कितने दिन में करना जरूरी होगा?

ओवर द टॉप (OTT) प्‍लेटफार्म पर यदि किसी ऐसी सामग्री का प्रसारण हो रहा है, नयी सोशल मीडिया गाइडलाइंस के विपरीत है, ऐसे में ओटीटी सामग्री की शिकायत का निपटारा करने के लिये प्‍लेटफार्म को मात्र 15 दिन का समय मिलेगा।

सोशल मीडिया में महिलाओं से आपत्तिजनक तस्‍वीरों या सामग्री के लिये नये नियम क्‍या हैं?

  • अब सोशल मीडिया पर महिलाओं से जुड़ी आपत्तिजनक सामग्री या तस्‍वीरों को शिकायत मिलने के 24 घंटे के भीतर हटाना होगा। यह शिकायत पीडि़ता अथवा उसकी ओर से कोई अन्‍य व्‍यक्ति भी कर सकता है।
  • शिकायतों के निवारण के लिये सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म को अब मुख्‍य अनुपालन अधिकारी की नियुक्ति करनी होगी, यह व्‍यक्ति भारत में निवास करने वाला होना चाहिये।
  • इसके अलावा नोडल अधिकारी भी‍ नियुक्‍त करने होंगें, तो 24×7 संपर्क में रहेंगें।

भारत में वर्तमान सोशल मीडिया उपयोगकर्ता संख्‍या कितनी है?

Social Media Users in India 2021

भारत में OTT सब्‍सक्राइबर्स की संख्‍या कितनी है?

OTT Subscribers 2021 in India

नयी सोशल मीडिया गाइडलाइंस के तहत कंपनियों को देनी होगी Parental Lock की सुविधा

केंद्र सरकार के द्धारा जारी नयी सोशल मीडिया गाइडलाइन में स्‍पष्‍ट उल्‍लेख है कि अब सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म तथा OTT प्‍लेटफार्म को पैरेंटल लॉक की सुविधा अपने यूजर्स को देनी होगी। जिसके लिये कुछ नियम निम्‍न प्रकार निर्धारित हैं।

  1. OTT संबंधी शिकायतों के लिये एक निकाय पूर्व जज या विशेषज्ञ की अध्‍यक्षता में बनाया जायेगा।
  2. सभी शिकायतों का निपटारा तय समय के भीतर करना होगा।
  3. पूछे जाने पर सूचनाओें का स्रोत बताना होगा।
  4. ओटीटी को अपनी सामग्री 5 श्रेणियों में वर्गीकृत करनी होगी। U – यूनिवर्सल, U/A 7+, U/A 13+, U/A 16+ तथा A
  5. U/A 13+ और इससे ऊपर के वर्ग के लिये Parental Lock की सुविधा देनी होगी ताकि वह बच्‍चों को इस कंटेंट से दूर रखा जा सके।

New Social Media Guidelines का सबसे बड़ा प्रभाव क्‍या पड़ेगा?

Social Media तथा OTT प्‍लेटफार्म पर नयी गाइडलाइंस जारी हो जाने के बाद सरकारी लगाम कस जायेगी। केंद्र सरकार के द्धारा जारी सूचना प्रौद्धोगिकी (मध्‍यस्‍थ दिशा निर्देश व डिजीटल मीडिया आचार संहिता) नियमावली 2021 के लागू होते ही दुनिया भर की तमाम सोशल मीडिया के क्षेत्र की दिग्‍गज कंपनिया भारतीय कानूनों के दायरे में आ जायेंगीं।

New Social Media Guidelines दिशा निर्देश फर्जी अकाउंट पर रोक लगाने में कैसे सफल होंगें?

नयी सोशल मीडिया गाइडलाइन के तहत अब सोशल मीडिया कंपनियों को Users Registration Platform बनाना होगा। उन्‍हें नया अकाउंट बनाते समय यूजर्स का मोबाइल नंबर से वेरीफिकेशन करना होगा। जिससे यह पता चल सकेगा कि कोई विशेष किस्‍म की पोस्‍ट या टवीट किस स्‍थान से तथा किस व्‍यक्ति ने किये हैं। साथ ही मांगें जाने पर यूजर्स की जानकारी सरकार को देनी होगी।

इंटरनेट मीडिया प्‍लेटफार्म के लिये जरूरी प्रावधान क्‍या हैं?

  • शिकायत मिलने पर नग्‍नता, यौन गतिविधियों या छेड़छाड़ संबंधी तस्‍वीरों या वीडियो वाला कंटेंट हटाना अनिवार्य होगा।
  • कंपनियों को 1 शिकायत निवारण अधिकारी नियुक्‍त करना होगा, जो 24 घंटे के भीतर शिकायत का संज्ञान लेगा तथा 15 दिन के अंदर शिकायत का निपटारा करेगा।
  • अदालत या सरकार के आदेश के बाद प्‍लेटफार्म ऐसी कोई सामग्री पब्लिश नहीं कर सकेंगें, जिससे भारत की संप्रभुता व लोक हित को देखते हुये रोक लगाई गयी हो।
  • यूजर की संख्‍या के मुताबिक इंटरनेट मीडिया कंपनियों को 2 श्रेणियों में बांटा गया है। जिनके नाम इंटरनेट मीडिया इंटरमीडियरी तथा सिग्निफिकेंट इंटरनेट मीडिया  हैं।
  • सिग्निफिकेंट इंटरनेट मीडिया इंटरमीडियरी के लिये प्रावधान भविष्‍य में किये जा सकते हैं।
  • नयी सोशल मीडिया दिशा निर्देश जारी हो जाने के बाद चीफ कंप्‍लायंस ऑफीसर, नोडल कांटेक्‍ट पर्सन तथा रेजीडेंट ग्रीवांस ऑफीसर नियुक्‍त करना अनिवार्य होगा तथा इन अधिकारियों को भारत में रहना अनिवार्य होगा।

New Social Media Rules 2021 लागू हो जाने के बाद यूजर वेरीफिकेशन मैकेनिज्‍म अस्तित्‍व में आ जायेगा

New Social Media Guidelines में स्‍पष्‍ट रूप से उल्‍लेख किया गया है कि कंपनियों को यूजर वेरीफिकेशन मैकेनिज्‍म का सेटअप करना जरूरी होगा। अब बिना मोबाइल नंबर के कोई भी अपना अकाउंट सोशल मीडिया / डिजिटल मीडिया प्‍लेटफार्म पर नहीं बना सकेगा।

क्‍या नयी सोशल मीडिया गाइडलाइंस से इंटरनेट की आज़ादी तथा अभि‍व्‍यक्ति की आज़ादी को ठेस पहुंचती है?

नई गाइडलाइंस को लेकर देश भर में चर्चाओं का दौर शुरू हो चुका है। अधिकांश लोगों का मानना है कि नयी गाइडलाइन से इंटरनेट की आजादी तथा अभिव्‍यक्ति की आजादी को ठेस पहुंचती है। ऐसा इसलिये है कि सरकारें अपने राजनैतिक लाभ की खातिर सूचनाओं पर अपने हिसाब से अंकुश लगाने का प्रयास करती हैं।

लेकिन इसके बावजूद नई गाइडलाइन में इसे लेकर 2 दिशा निर्देश उल्‍लेखित हैं – इन्‍हें जरूर पढ़ें

  • व्‍यापार व काम के लिये सोशल मीडिया का स्‍वागत, लेकिन कानूनों के प्रति होना होगा जवाबदेह।
  • उपयोगकर्ताओं को आलोचना व असहमति का अधिकार स्‍वीकार, पर रहना होगा दायरे में।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट नयी सोशल मीडिया गाइडलाइंस क्‍या हैं? New Social Media Guidelines / Rules in India 2021 यदि आप What is Indian Social Media Guidelines in Hindi से संबंधित कोई अन्‍य प्रश्‍न पूछना चाहते हैं तो आप हमसें कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।

Spread the love

6 thoughts on “नयी सोशल मीडिया गाइडलाइंस क्या है? New Social Media Guidelines / Rules in India”

  1. आपके द्वारा दी गई जानकारी अच्छी जानकारी है। सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर जागरूक बनाने काम निरंतर किया जाना चाहिए।

    Reply
  2. मैंने आपके बहुत सारे आर्टिकल पढ़े है, आप बहुत ही सटीक जानकारी देते है। ये बहुत ही अच्छी जानकारी है। इसको पढ़ कर मुझे इससे जुडी सारि चीज़े पता चल गयी। यहां बहुत अच्छी जानकारी मिली।

    Reply
  3. इस आर्टिकल में बहुत आसान तरीके से समझाया गया है। बहुत ही helpfull आर्टिकल है और बहुत अच्छी जानकारी मिली है।

    Reply

Leave a comment